लाइव टीवी

CAA पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा: हेड कॉन्स्टेबल समेत सात की मौत, DCP सहित 50 घायल
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 25, 2020, 9:17 AM IST
CAA पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा: हेड कॉन्स्टेबल समेत सात की मौत, DCP सहित 50 घायल
न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, हालात को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली के शीर्ष अधिकारियों की एक बैठक बुलाई है.

दिल्ली के मौजपुर (Maujpur) में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच पत्थरबाजी में घायल हुए एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई. मृतक पुलिसकर्मी की पहचान हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के रूप में हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2020, 9:17 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर पूर्वी दिल्ली (North East Delhi) में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) को लेकर भड़की हिंसा में एक हेड कांस्टेबल समेत सात लोगों की मौत हो गई और अर्द्धसैन्य एवं दिल्ली पुलिस बल के कई कर्मियों समेत कम से कम 50 लोग घायल हो गए. पथराव के कारण घायल हुए गोकलपुरी के एसीपी के कार्यालय से जुड़े हेड कांस्टेबल रतन लाल (42 साल) की मौत हो गई. दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि हिंसा में घायल तीन अन्य आम नागरिकों की मौत हो गई और 50 घायल उपचार के लिए अस्पताल पहुंचे हैं.

टायर मार्केट को फूंका, मौके पर दमकल की 6 गाड़ियां मौजूद
इस बीच, भजनपुरा इलाके में उपद्रवियों ने पेट्रोल पंप में आग लगा दी. वहीं, गोकुलपुरी में कपूर पेट्रोल पंप पर टायर मार्केट को प्रदर्शनकरियों ने आग के हवाले कर दिया. आग बुझाने  के लिए मौके पर दमकल की 6 गाड़ियां मौजूद हैं.

25 फरवरी को बंद रहेंगे उत्तर-पूर्वी जिले के स्कूल



वहीं, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ''दिल्ली में हिंसा प्रभावित उत्तर-पूर्वी जिले में कल स्कूलों की गृह परीक्षाएं नहीं होंगी और सभी सरकारी एवं प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे. बोर्ड परीक्षाओं के सम्बंध में मैंने मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक जी से बात की है कि इस जिले में कल की बोर्ड परीक्षा भी स्थगित कर दी जाए.''



अमित शाह ने बुलाई बैठक
न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, हालात को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली के शीर्ष अधिकारियों की एक बैठक बुलाई है. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस को उपद्रवियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.



गृह राज्य मंत्री का बड़ा बयान- दुनिया में भारत की छवि खराब करने की रची गई साजिश
गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा है कि यह दुनिया में भारत की छवि को नीचा दिखाने के लिए किया जा रहा है. दिल्ली पुलिस का एक हेड कंस्टेबल शहीद हो गया है. कांग्रेस पार्टी और कुछ राजनीतिक दलों से पूछना चाहता हूं कि इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा? यह भारत की छवि को खराब करने की साजिश है. मैं इसकी निंदा करता हूं. शांतिपूर्ण विरोध के लिए जाना आपका अधिकार है, लेकिन यह तरीका नहीं है. यह किस तरह का विरोध है? मैं चेतावनी देना चाहता हूं. हिंसा और आगजनी बर्दाश्त नहीं की जाएगी और कड़ी कार्रवाई की जाएगी. दिल्ली पुलिस को दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया है.'

सीआरपीएफ की 8 कंपनियां तैनात 
इस बीच स्थिति को देखते हुए उत्तर-पूर्वी दिल्ली के हिंसा प्रभावित 10 इलाकों में धारा-144 लगा दी गई हैं. इन इलाकों में दिल्ली पुलिस फ्लैग मार्च कर रही है. सीआरपीएफ सूत्रों के मुताबिक, उत्तर-पूर्वी दिल्ली क्षेत्र सीआरपीएफ की 8 कंपनियां तैनात की गई हैं जिनमें रैपिड एक्शन फोर्स की दो कंपनियां और महिला सुरक्षाकर्मियों की एक कंपनी शामिल है.

हालात की मॉनिटरिंग कर रहे हैं CP अमूल्य पटनायक
गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक, गृह मंत्रालय लगातार दिल्ली पुलिस के संपर्क में है और हालात की जानकारी ले रहा है. पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक कंट्रोल रूम में मौजूद हैं और ग्राउंड पर मौजूद अफसरों से लगातार ब्रीफिंग ले रहे हैं. सीपी दिल्ली जल्द ही गृह मंत्रालय के आला अधिकारियों से मुलाकात करेंगे. प्रारंभिक तौर पर ये जानकारी सामने आ रही है कि जाफराबाद और आसपास के इलाकों में हुई घटना सुनियोजित साजिश है​.



राहुल गांधी बोले- शांतिपूर्ण विरोध स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक, हिंसा उचित नहीं


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ''आज दिल्ली में हुई हिंसा परेशान करने वाली है और इसकी निंदा की जानी चाहिए. शांतिपूर्ण विरोध स्वस्थ लोकतंत्र का प्रतीक है, लेकिन हिंसा को कभी भी उचित नहीं ठहराया जा सकता. मैं दिल्ली के नागरिकों से अपील करता हूं कि वे संयम और समझ दिखाएं.''

हेड कॉन्स्टेबल की मौत पर केजरीवाल ने जताया दुख, की शांति बनाए रखने की अपील


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत पर दुख जताया और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. केजरीवाल के अलावा उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, पंकज गुप्ता, संजय सिंह आदि ने भी ट्वीट कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

जाफराबाद और मौजपुर इलाकों में प्रदर्शनकारियों ने दो घरों को आग लगाई

इससे पहले, उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर इलाकों में प्रदर्शनकारियों ने कम से कम दो घरों में आग लगा दी, जिससे तनाव और बढ़ गया है. इन इलाकों में सोमवार को लगातार दूसरे दिन सीएए समर्थक और विरोधी समूहों के बीच झड़पें हुईं. प्रदर्शनकारियों ने एक-दूसरे पर पथराव किया. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े. पुलिस ने समूहों को शांत कराने के भी प्रयास किए. अधिकारियों के अनुसार प्रदर्शनकारियों ने इलाके में लगी आग बुझाते समय दमकल की एक गाड़ी को भी नुकसान पहुंचाया.

जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन बंद
दिल्ली मेट्रो ने इलाके में तनाव के बीच जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर स्टेशनों पर प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए. डीएमआरसी ने ट्वीट किया, ‘‘जाफराबाद तथा मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश एवं निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं. इन स्टेशनों पर ट्रेनें नहीं रुकेंगी.’’ गौरतलब है कि जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार पिछले 24 घंटों से बंद हैं.

सीएए के खिलाफ बड़ी संख्या में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने रविवार को सड़क अवरुद्ध कर दी थी जिसके बाद जाफराबाद में सीएए के समर्थकों और विरोधियों के बीच झड़प शुरू हो गई थी. दिल्ली के कई अन्य इलाकों में भी ऐसे ही धरने शुरू हो गए हैं.

(भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें :-

Shaheen Bag Protest: वार्ताकारों ने SC को सौंपी रिपोर्ट, 26 फरवरी को सुनवाई

CAA Protest: जानिए जाफराबाद से चांदबाग तक कैसे फैलता गया प्रदर्शन!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 5:07 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर