होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

दिल्ली हिंसाः 4 लोगों पर मुकदमा चलाने का आदेश, दो को आरोप मुक्त किया

दिल्ली हिंसाः 4 लोगों पर मुकदमा चलाने का आदेश, दो को आरोप मुक्त किया

सेशन कोर्ट ने 4 लोगों पर दिल्ली हिंसा मामले में मुकदमा चलाने का आदेश दिया. (प्रतीकात्मक फोटो)

सेशन कोर्ट ने 4 लोगों पर दिल्ली हिंसा मामले में मुकदमा चलाने का आदेश दिया. (प्रतीकात्मक फोटो)

सेशन कोर्ट ने दंगा, आगजनी और इमारत नष्ट करने के लिए विस्फोटक इस्तेमाल करने के आरोप में 4 लोगों पर मुकदमा चलाने का आदेश दिया, साथ ही दो लोगों को सबूतों के अभाव में आरोपमुक्त कर दिया.

    नई दिल्ली. दिल्ली की एक अदालत ने वर्ष 2020 में पूर्वोत्तर दिल्ली में दंगों से संबंधित एक मामले में विभिन्न अपराधों के लिए चार लोगों पर मुकदमा चलाने का आदेश दिया है. इन लोगों पर दंगा, आगजनी और इमारत को नष्ट करने के लिए विस्फोटक पदार्थ का इस्तेमाल करने जैसे आरोप हैं. यह मामला 25 फरवरी, 2020 को एक पार्किंग स्थल के अंदर दंगे की घटना से संबंधित है. अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत ने शाहरुख, अश्विनी, आशु और जुबेर के खिलाफ आरोप तय करने का आदेश देते हुए कहा कि ‘‘यह मानने के लिए आधार हैं’’ कि उन्होंने अपराध किया था.

    इस बीच, न्यायाधीश ने कासिम और खालिद अंसारी को यह कहते हुए आरोपमुक्त कर दिया कि उनके खिलाफ ‘‘उनके बयानों’’ के सिवाय कोई पुख्ता सबूत नहीं है. अदालत ने 18 अगस्त के अपने आदेश में कहा कि आरोपपत्र की सामग्री के आधार पर, जिसका गवाहों के बयान द्वारा विधिवत समर्थन किया गया, यह रिकॉर्ड में आया कि 25 फरवरी, 2020 को शाम लगभग 4.30 बजे 100 से 250 दंगाइयों की भीड़ डंडों, पेट्रोल की बोतलों से लैस होकर आंबेडकर कॉलेज के पास एमसीडी पार्किंग में घुस गई.

    इसने कहा कि भीड़ में शामिल रहे शाहरुख, अश्विनी, आशु और जुबेर के खिलाफ यह मानने के आधार हैं कि उन्होंने अपराध किया था.यह मामला पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) पार्किंग के मालिक की शिकायत के आधार पर ज्योति नगर थाने में दर्ज किया गया था.

    Tags: Delhi news, Delhi Violence

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर