Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली हिंसा: जब भीड़ के सामने बेबस हो गई Delhi Police, लाठी से पीटकर कर दी युवक की हत्या

दिल्ली हिंसा: जब भीड़ के सामने बेबस हो गई Delhi Police, लाठी से पीटकर कर दी युवक की हत्या

 (फाइल फोटो)

(फाइल फोटो)

जांच टीम ने करीब 300 पेज की चार्जशीट तैयार की है, जो गुरुवार को कोर्ट में दाखिल की जाएगी. इसमें 35 लोगों को गवाह बनाया गया है. जांच के दौरान अब तक 7 लोगों को इस हत्या के संबंध में आरोपी बनाकर जेल भेजा जा चुका है.

नई दिल्ली. दिल्ली हिंसा के मामले में गुरुवार को भी दिल्ली क्राइम ब्रांच की एसआईटी SIT एक अहम चार्जशीट दाखिल करने जा रही है. ये चार्जशीट नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के ब्रजपुरी इलाके में 25 फरवरी को हुई हिंसा के मामले से जुड़ी है. चार्जशीट के मुताबिक भीड़ एक युवक को लाठी-डंडों से पीट रही थी. मौके पर दिल्ली पुलिस भी मौजूद थी. लेकिन भीड़ खासी उग्र थी. जिसके चलते पुलिसकर्मी कुछ नहीं कर सके. लेकिन जब पुलिस युवक को लेकर अस्पताल पहुंची तो डॉक्टरों से उसे मृत घोषित कर दिया.

मिठाई लेकर घर जा रहा था 22 साल का मोनिस

जांच टीम के मुताबिक 25 फरवरी को 22 साल के मोनिस नाम के लड़के की उपद्रवियों की भीड़ ने लाठी-डंडों से पीट कर हत्या कर दी थी. हत्या के वक्त गुस्से में आकर एक समुदाय विशेष को हत्यारों ने गाली भी दी थी. मारपीट के बाद म्रतक का मोबाइल फोन भी छीनकर ले गए थे. मोनिस की हत्या उस वक्त की गई थी जब वो रोहणी से अपने पिता के पास से मिठाई लेकर ब्रजपुरी अपने घर आ रहा था.

ये भी पढ़ें:- बिजनेसमैन ने बदमाशों को दी कत्ल की सुपारी, और कत्ल वाले दिन भेज दी अपनी ही तस्वीर, जानें क्यों

भीड़ ने इसलिए की थी मोनिस की हत्या

जांच टीम ने करीब 300 पेज की चार्जशीट तैयार की है, जो गुरुवार को कोर्ट में दाखिल की जाएगी. इसमें 35 लोगों को गवाह बनाया गया है. जांच के दौरान अब तक 7 लोगों को इस हत्या के संबंध में आरोपी बनाकर जेल भेजा जा चुका है. दरअसल जिस वक्त मोनिस की हत्या भीड़ ने की उससे महज़ एक घन्टे पहले ही राहुल सोलंकी नाम के एक लड़के की उपद्रवियों की भीड़ ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. उसके बाद मोनिस वहां से गुजर रहा था तो उसका नाम पूछकर भीड़ ने उसकी लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी थी. तीन दिन के बाद परिवार ने शव की पहचान अपने बेटे मोनिस के रूप में की थी.

Tags: Court, Crime Branch, Delhi police, Delhi riots, SIT

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर