Home /News /delhi-ncr /

delhi water supply situation worsens further bawana water treatment plants wazirabad pond level nodvm

दिल्ली में जलसंकट: 'लगभग सूखी' यमुना में 150 क्यूसेक अतिरिक्त पानी तत्काल छोड़ने का हरियाणा से आग्रह

दिल्ली के वजीराबाद जलाशय का जलस्तर गिरकर इस साल के सबसे निचले स्तर 668.3 फुट पर पहुंच गया है, जिसके चलते राष्ट्रीय राजधानी में जलापूर्ति की स्थिति और बदतर हो गई है.

दिल्ली के वजीराबाद जलाशय का जलस्तर गिरकर इस साल के सबसे निचले स्तर 668.3 फुट पर पहुंच गया है, जिसके चलते राष्ट्रीय राजधानी में जलापूर्ति की स्थिति और बदतर हो गई है.

Delhi News: दिल्ली के वजीराबाद जलाशय का जलस्तर गिरकर इस साल के सबसे निचले स्तर 668.3 फुट पर पहुंच गया है, जिसके चलते राष्ट्रीय राजधानी में जलापूर्ति की स्थिति और बदतर हो गई है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि जलाशय का सामान्य जलस्तर 674.5 फुट होता है. एक अधिकारी ने कहा, 'चूंकि यमुना नदी लगभग सूख चुकी है, लिहाजा हम कैरियर लाइन्ड कैनाल (सीएलसी) और दिल्ली सब ब्रांच (डीएसबी) से पानी का रुख वजीराबाद की ओर मोड़ रहे हैं.' दिल्ली जल बोर्ड ने एक बयान में कहा कि उत्तरी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और दक्षिणी दिल्ली के कुछ हिस्सों में स्थिति में सुधार होने तक पानी कम दबाव के साथ उपलब्ध रहेगा.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दिल्ली के वजीराबाद जलाशय का जलस्तर गिरकर इस साल के सबसे निचले स्तर 668.3 फुट पर पहुंच गया है, जिसके चलते राष्ट्रीय राजधानी में जलापूर्ति की स्थिति और बदतर हो गई है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि जलाशय का सामान्य जलस्तर 674.5 फुट होता है. एक अधिकारी ने कहा, ‘चूंकि यमुना नदी लगभग सूख चुकी है, लिहाजा हम कैरियर लाइन्ड कैनाल (सीएलसी) और दिल्ली सब ब्रांच (डीएसबी) से पानी का रुख वजीराबाद की ओर मोड़ रहे हैं.’

दिल्ली जल बोर्ड ने एक बयान में कहा कि उत्तरी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और दक्षिणी दिल्ली के कुछ हिस्सों में स्थिति में सुधार होने तक पानी कम दबाव के साथ उपलब्ध रहेगा. बोर्ड ने मंगलवार को हरियाणा सिंचाई विभाग को एक और पत्र लिखा था जिसमें उससे ‘लगभग सूखी’ यमुना में 150 क्यूसेक अतिरिक्त पानी तत्काल छोड़ने का आग्रह किया गया था.

दिल्ली में बढ़ सकता है जल संकट

दिल्ली में बढ़ती गर्मी के बीच पानी का संकट गहरा रहा है और यमुना में पानी के कम प्रवाह के कारण वजीराबाद तालाब में जलस्तर तेजी से घट रहा है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार ने एक सप्ताह में दूसरी बार हरियाणा सिंचाई विभाग को पत्र लिखकर यमुना में अतिरिक्त जल छोड़ने को कहा है ताकि राजधानी में जलापूर्ति में अवरोध नहीं आए.

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि वजीराबाद तालाब में पानी के कम स्तर और सीएलसी में कम प्रवाह की वजह से चंद्रावल, वजीराबाद, हैदरपुर, नांगलोई और द्वारका समेत कई जल शोधन संयंत्रों की परिचालन क्षमता कम हुई है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली को 2021 में 1,380 एमजीडी पानी की जरूरत थी जबकि दिल्ली जल बोर्ड करीब 950 एमजीडी पानी की आपूर्ति ही कर सका. मौसम विभाग ने मई महीने में भी सामान्य से अधिक तापमान का अनुमान व्यक्त किया है.

Tags: Delhi news, Water

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर