बेड की किल्लत के बीच डिप्टी सीएम सिसोदिया बोले, कहा-लॉकडाउन में ना फैलाएं पैनिक, ढाई हजार अभी भी खाली!

दिल्ली सरकार का दावा है कि अभी भी अस्पतालों में ढाई हजार से ज्यादा बेड खाली हैं.  (File photo)

दिल्ली सरकार का दावा है कि अभी भी अस्पतालों में ढाई हजार से ज्यादा बेड खाली हैं. (File photo)

Delhi Corona News: डिप्टी सीएम सिसोदिया ने कहा है कि पिछले 4-5 दिनों में अस्पतालों में 2,700 नए बेड्स बढ़ा दिए जाएंगे. पिछले 2 सप्ताह में 6,071 बेड्स नए बढ़ाए गए हैं जिससे बेड्स की संख्या 20 अप्रैल तक 19,101 हो गई है. 2 हफ़्तों में दिल्ली में कोरोना बेड्स की संख्या 3 गुणा तक बढ़ाई गई है. लोगों से पैनिक न होने और लॉकडाउन के सभी नियमों का पालन करने की अपील की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 5:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोरोना (Corona) संक्रमित मरीजों की संख्या के चलते अब दिल्ली में बेड्स की संख्या भी लगातार कम होती जा रही है. सामान्य बेड्स से लेकर वेंटिलेटर और आईसीयू बेड्स की भारी किल्लत होने लगी हैै. बावजूद इसके दिल्ली सरकार (Delhi Government) का दावा है कि अभी भी अस्पतालों में ढाई हजार से ज्यादा बेड खाली हैं.

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया का कहना है कि दिल्ली सरकार कोरोना पेशेंट की बढ़ती संख्या और अस्पतालों पर बेड्स के दबाव के चलते लगातार इनकी संख्या में बढ़ोतरी भी कर रही है.

उन्होंने बताया कि पिछले 4 से 5 दिनों में अस्पतालों में 2,700 नए बेड्स बढ़ा दिए जाएंगे. उन्होंने बताया कि पिछले 2 सप्ताह में 6,071 बेड्स नए बढ़ाए गए हैं जिससे बेड्स की संख्या 20 अप्रैल तक 19,101 हो गई है. सरकार का प्रयास है कि लगातार बेड्स की संख्या में बढ़ोतरी की जाए. पिछले 2 हफ़्तों में दिल्ली में कोरोना बेड्स की संख्या 3 गुणा तक बढ़ाई गई है.

इन सरकारी अस्पतालों में कोविड बेड्स की व्यवस्था
सिसोदिया ने बताया कि बुराड़ी अस्पताल में अभी 320 बेड्स मंजूर है जिनकी संख्या 800 की जाएगी. अम्बेडकर नगर अस्पताल में बेड्स की क्षमता 200 से 600 की जाएगी. दीनदयाल अस्पताल में बेड्स 250 से बढ़ाकर 750 किए जाएंगे. आचार्य भिक्षु अस्पताल और DRDO के कोरोना सेंटर में 250-250 नए बेड्स शामिल किए जाएंगे. नरेला के राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में बेड्स की संख्या 200 से 400 की जाएगी.

सरकारी स्कूल को LNJP अस्पताल से जोड़ेंगे 

साथ ही दिल्ली सरकार के एक स्कूल को एलएनजेपी अस्पताल से जोड़ा जाएगा जिसमें 125 बेड्स शामिल होंगे और कॉमनवेल्थ गेम्स विलेज में 500 बेड्स का सेन्टर तैयार किया जाएगा. ये सभी बेड्स आगामी 4-5 दिनों में तैयार कर दिए जाएंगे.



कोरोना होने पर डरकर अस्पताल की ओर नहीं बल्कि होम आइसोलेशन को अपनाए

डिप्टी सीएम ने लोगों से पैनिक न होने और लॉकडाउन के सभी नियमों का पालन करने की अपील की. उन्होंने कहा कि कोरोना होने पर लोग डरकर अस्पताल की ओर न भागे बल्कि होम आइसोलेशन को अपनाए.

होम आइसोलेशन कोरोना से लड़ने का सबसे कारगर उपाय है. होम आइसोलेशन के दौरान डॉक्टर नियमित रूप से लोगों से फोन पर संपर्क में रहते है. यदि तेज बुखार आता है या सिम्पटम्स ज्यादा बढ़ते हैं तभी अस्पतालों में जाए.

'दिल्ली कोरोना ऐप' पर अस्पतालों में बेड्स की स्थिति जांच लें

डिप्टी सीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अस्पताल जाने से पहले 'दिल्ली कोरोना ऐप' पर अस्पतालों में बेड्स की स्थिति जांच लें और जहां बेड्स मौजूद हो वहां जाए इससे समय बचेगा.

ऐप पर गलत जानकारी दिखाने पर कार्रवाई होगी

उन्होंने कहा कि यदि कोई अस्पताल ऐप पर गलत जानकारी दिखा रहा है या फिर बेड्स होने के बाबजूद लोगों को मना कर रहा है तो उस अस्पताल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

दिल्‍ली में 8.77 लाख से अधिक हो चुकें हैं कोरोना संक्रमित

अब दिल्ली में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 8, 77, 146 हो गई है. इनमें से 7, 87, 898 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं, कोरोना से अब तक 12, 361 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, दिल्ली में इस समय कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 76, 887 है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज