Home /News /delhi-ncr /

Deshbhakti Curriculum: देशभक्‍ति की पढ़ाई के ल‍िए नहीं होगी कोई टेस्‍टबुक, CM केजरीवाल ने बताया- अब कैसे होंगे डॉक्‍टर, इंजीनियर और वकील

Deshbhakti Curriculum: देशभक्‍ति की पढ़ाई के ल‍िए नहीं होगी कोई टेस्‍टबुक, CM केजरीवाल ने बताया- अब कैसे होंगे डॉक्‍टर, इंजीनियर और वकील

Delhi Latest News: सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा क‍ि बेहद खुशी है दिल्ली के स्कूल मे पाठ्यक्रम लॉन्‍च हुआ है. अब देशभक्ति पाठ्यक्रम पढ़ाया जाएगा, हर एक इंसान के अंदर देशभक्ति होती है उसे जगाना है और जगाकर रखना है.

Delhi Latest News: सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा क‍ि बेहद खुशी है दिल्ली के स्कूल मे पाठ्यक्रम लॉन्‍च हुआ है. अब देशभक्ति पाठ्यक्रम पढ़ाया जाएगा, हर एक इंसान के अंदर देशभक्ति होती है उसे जगाना है और जगाकर रखना है.

Delhi Latest News: सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा क‍ि बेहद खुशी है दिल्ली के स्कूल मे पाठ्यक्रम लॉन्‍च हुआ है. अब देशभक्ति पाठ्यक्रम पढ़ाया जाएगा, हर एक इंसान के अंदर देशभक्ति होती है उसे जगाना है और जगाकर रखना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    दिल्ली सरकार के स्कूलों में अब देशभक्ति का पाठ्यक्रम भी पढ़ाया जाएगा. शहीद भगत सिंह जयंती के मौक़े पर मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसकी शुरुआत की. इस पाठ्यक्रम को नर्सरी से 12वीं तक के छात्रों के लिए शुरू किया गया है, ताकि छात्र जीवन से ही देशभक्ति की भावना पैदा हो सके. इस पाठ्यक्रम के उद्घाटन के अवसर पर केजरीवाल ने कहा की आज हम अपने कॉलेजों में पैसे की मशीने तैयार कर रहे हैं. दो साल के कठिन प्रयासों के बाद हमारी टीम ने यह करिकुलम तैयार किया है. अब इसे हम इम्प्रूव करते जाएंगे. यह देश की प्रगति में मिल का पत्थर साबित होगा. दिल्ली ने यह शुरुआत की है, आने वाले समय में देशभर में इसकी शुरुआत होगी.

    सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा क‍ि बेहद खुशी है दिल्ली के स्कूल मे पाठ्यक्रम लॉन्‍च हुआ है. अब देशभक्ति पाठ्यक्रम पढ़ाया जाएगा, हर एक इंसान के अंदर देशभक्ति होती है उसे जगाना है और जगाकर रखना है. हमारी शिक्षा प्रणाली प्रोफेशनल तैयार करती है पर अब हम देशभक्त डॉक्‍टर, देशभक्त इंजीनियर और देशभक्त वकील पैदा करेंगे.

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी (आप) सरकार के महत्त्वाकांक्षी ‘देशभक्ति पाठ्यक्रम’ की मंगलवार को शुरुआत करते हुए कहा कि दिल्ली का हर बच्चा सच्चे अर्थों में देशभक्त होगा. क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह की जयंती पर छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि आजकल लोग केवल तिरंगा फहराने या राष्ट्रगान गाते वक्त ही देशभक्ति महसूस करते हैं. उन्होंने कहा क‍ि पिछले 74 सालों में हमें अपने स्कूलों में भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान और गणित पढ़ाया गया लेकिन बच्चों को ‘देशभक्ति’ नहीं पढ़ाई गई. देशभक्ति हम सभी के अंदर है लेकिन इसे प्रेरित करने की जरूरत है. दिल्ली का हर बच्चा सच्चे अर्थों में देशभक्त होगा. ‘देशभक्ति पाठ्यक्रम ‘ देश के विकास में सहायक सिद्ध होगा और भारत को तेजी से आगे ले जाएगा. ‘भारत माता की जय’, ‘इंकलाब जिंदाबाद’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा क‍ि हमें ऐसा माहौल विकसित करने की जरूरत है, जिसमें हम सभी और हमारे बच्चे हर कदम पर देशभक्ति महसूस करें.

    जानें कैसे होगी स्‍कूलों में देखभक्‍त‍ि की पढ़ाई
    केजरीवाल ने कहा कि सभी तरह के पेशेवर सामने आ रहे हैं ‘देशभक्त पेशेवर’ विकसित नहीं हो रहे हैं. नर्सरी से कक्षा 12 तक ‘देशभक्ति पाठ्यक्रम’ की शुरूआत की जाएगी. पाठ्यक्रम में कोई पाठ्यपुस्तक नहीं होगी. सहायक छोटी पुस्तिका होंगी जो तीन समूहों के लिए डिजाइन की गई हैं- नर्सरी से पांचवी कक्षा तक, छठी से आठवीं कक्षा तक और नौवीं से 12वीं कक्षा तक.

    इस मौके पर द‍िल्‍ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा क‍ि दो साल लग गए. मुख्यमंत्री जी ने लगातार गाइडेंस दी और आज हम बहुत अच्छा पाठ्यक्रम लेकर आये हैं. ये पाठ्यक्रम स्टूडेट तैयार नहीं करेगा जो सिर्फ देशभक्ति की बात करेगा, ये ऐसे स्टूडेट तैयार करेगा जिसके दिल मे देशभक्ति का जज्बा होगा. सिसोदिया ने कहा, ‘हम भगत सिंह, हेमू कलानी, झांसी की रानी और तात्या टोपे की लड़ाइयों के बारे में बात करते हैं, लेकिन हम कभी इस बात पर चर्चा नहीं करते कि ऐसा क्या हुआ कि उन्हें लड़ाई लड़नी पड़ी. उन्होंने कहा कि देशभक्ति पाठ्यक्रम इस कमी को पाटेगा.

    दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने कहा क‍ि देश के अंदर जिस तरह नफरत का माहौल बनाया जा रहा है, उसमें सच्ची देशभक्ति क्या है यह बताना बहुत जरूरी है?

    Tags: Arvind kejriwal, Delhi news, Deshbhakti curriculum

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर