लाइव टीवी

क्या बदमाशों ने लूट की एक अन्य वारदात में किया था गौरव चंदेल की गाड़ी का इस्तेमाल?
Delhi-Ncr News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 17, 2020, 4:37 PM IST
क्या बदमाशों ने लूट की एक अन्य वारदात में किया था गौरव चंदेल की गाड़ी का इस्तेमाल?
उत्तर प्रदेश पीसीएस एसोसिएशन के ऑडिटर समीर वर्मा ने दिया इस्‍तीफा.

नोएडा के बहुचर्चित गौरव चंदेल हत्याकांड (Gaurav Chandel Murder) में रोजाना नए खुलासे हो रहे हैं. बीती 6 जनवरी को गाड़ी लूटने के इरादे से गौरव चंदेल की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी गई थी. खबर आ रही है कि बदमाशों ने गौरव चंदेल की कार का इस्तेमाल लूट की एक अन्य वारदात में किया था.

  • Share this:
गाज़ियाबाद. बहुचर्चित गौरव चंदेल हत्याकांड में पुलिस की सुई बुलंदशहर के बदमाशों (Criminals of Bulandshahar) के इर्दगिर्द घूम रही थी तभी 15 जनवरी की सुबह एक खबर ने फिर से तहलका मचा दिया. मृतक गौरव की गाड़ी किआ सेलटोस गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र के आकाश नगर इलाके में लावारिस हालात में मिली. इस मामले में गाजियाबाद पुलिस की बड़ी किरकिरी भी हुई कि आखिरकार जब 14 जनवरी की रात जब इस गाड़ी की सूचना एक स्थानीय व्यक्ति ने दी थी तो सुबह तक गाजियाबाद पुलिस ने मामले को क्यों दबाए रखा? मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने पीड़ित परिवार को 20 लाख की आर्थिक मदद दी है साथ ही पुलिस को जल्द कार्रवाई के लिए निर्देश भी दिया.

घटना से जुड़े नए अपडेट सामने आए
इस घटना से जुड़ा एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया, जिसमें मृतक की गाड़ी से आगे एक गाड़ी भी आती हुई दिखाई दे रही थी. नोएडा पुलिस जांच के बाद गाड़ी को अपने साथ थाना बिसरख लेकर चली गई. मामला यही ठंडा नहीं हुआ, आज सुबह फिर दो खबरों ने इस मामले को हवा दे दी. जहां एक ओर मृतक गौरव चंदेल का फ़ोन घटनास्थल के पास से ही राहगीर को मिला वहीं दूसरी ओर गाजियाबाद में भी थाना कविनगर क्षेत्र में एक लूट का मामला सामने आया,

बदमाशों ने लूट की वारदात में मृतक की गाड़ी का इस्तेमाल किया?



लूट के शिकार चिराग अग्रवाल ने बताया कि 14 जनवरी की रात को एक अज्ञात गाड़ी में सवार 3 बदमाशों ने उनकी गाड़ी में टक्कर मारी और उनकी गाड़ी में बैठकर उनके साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया. इस दौरान बदमाश उन्हें महरौली के पास से होते हुए 4 घंटे तक घुमाते रहे और मसूरी थाना क्षेत्र के एक निजी अस्पताल के पास फेंककर फरार हो गए. हालांकि कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि बदमाश गौरव चंदेल की गाड़ी से ही चिराग अग्रवाल की गाड़ी को लूटकर ले भागे हैं. वहीं गौरव की गाड़ी से भी तकरीबन 3 लोगों के फिंगरप्रिंट मिले हैं जिस पर फोरेंसिक टीम काम कर रही है.



गले की फांस बना मामला
हालांकि गाजियाबाद पुलिस इस मामले में अभी कुछ भी बोलने से बच रही है. बहरहाल इस पूरे मामले में जिस तरह रोजाना नए खुलासे हो रहे है उससे ये साफ जाहिर हो रहा है कि ये मामला नोएडा ओर गाजियाबाद दोनों ही क्षेत्रों की पुलिस के लिए गले की फांस बना हुआ है.

ये भी पढ़ें :-

जानिए लखनऊ पुलिस कमिश्नरी में किस DCP के पास आया कौन सा थाना?
मेरठ में जूस बेचने वाले नारायण बन गए प्रोफेसर, PM मोदी को मानते हैं 'द्रोणाचार्य'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 17, 2020, 3:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading