• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Delhi Police Commissioner: राकेश अस्थाना बने दिल्ली पुलिस प्रमुख, 3 महीने के लिए मिली ये शक्ति

Delhi Police Commissioner: राकेश अस्थाना बने दिल्ली पुलिस प्रमुख, 3 महीने के लिए मिली ये शक्ति

अस्थाना के पास ये शक्तियां आगामी तीन महीने यानी 18 अक्टूबर तक रहेंगी.

अस्थाना के पास ये शक्तियां आगामी तीन महीने यानी 18 अक्टूबर तक रहेंगी.

आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) मूल रूप से झारखंड (Jharkhand) के रहने वाले हैं. और उन्हेंने झारखंड के नेतरहाड विद्यालय से अपनी पढ़ाई पूरी की है. वे 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी है. गौरतलब है सीबीआई में रहते हुए वे काफी सुर्खियों में छाए हुए थे और उनका कार्यकाल काफी विवादों में रहा.

  • Share this:
    नई दिल्ली: सीबीआई के पूर्व डायरेक्टर राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) को दिल्ली का पुलिस कमिश्नर (Delhi police commissioner) नियुक्त किया गया है. स्वतंत्रता दिवस से पहले मोदी सरकार का यह बड़ा बदलाव है. दिल्ली पुलिस कमिश्नर बनते ही राकेश अस्थाना को विशेष शक्तियां भी मिल गई हैं. एलजी अनिल बैजल ने हाल ही में एक आदेश पारित किया था जिसमें दिल्ली पुलिस प्रमुख को तीन महीने के लिए विशेष अधिकार दिए गए हैं.

    सूत्रों की मानें तो राकेश अस्थाना पीएम मोदी (PM Narendra Modi) और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के करीबी माने जाते हैं. यह तीसरा मौका है जब दिल्ली पुलिस से बाहर के कैडर को कमिश्नर के पद पर बैठाया गया है. इससे पहले एसएस जोग और अजय राज शर्मा ऐसे पुलिस कमिश्नर थे जो बाहर के कैडर से थे. आइए जानते हैं कि उन्हें दिल्ली पुलिस कश्मिनर बनते ही उन्हें कौन सी विशेष शक्तियां दी गई है जो आम पुलिस कमिश्नर के पास नहीं होतीं.

    तीन महीने के लिए ये होंगी विशेष शक्तियां

    • राकेश अस्थाना अब राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम यानी एनएसए (NSA) के तहत आने वाली सभी शक्तियों का प्रयोग कर सकेंगे.

    • अस्थाना के पास ये शक्तियां आगामी तीन महीने यानी 18 अक्टूबर तक रहेंगी.

    • विशेष अधिकार होने के बाद दिल्ली पुलिस को किसी भी व्यक्ति के बारे यदि यह संदेह होता है कि उससे देश या राज्य को किसी भी तरह का खतरा है तो वह उसे तुरंत गिरफ्तार कर सकती है.

    • अगर पुलिस प्रशासन को यह लगता है कि कोई व्यक्ति कानून व्यवस्था को बाधित कर रहा है और फिर वह कानून के नियमों का उल्लंघन कर रहा है तो अब दिल्ली पुलिस एनएसए के तहत तुरंत गिरफ्तार कर सकती है.

    • इस कानून के लागू होने के बाद अब दिल्ली पुलिस जमाखोरों पर भी कार्रवाई कर सकती है.

    • एनएसए के तहत किसी भी व्यक्ति को दिल्ली पुलिस तीन महीने के लिए गिरफ्तार कर सकती है और अगर आवश्यकता पड़ती है तो पुलिस उसकी अवधि को तीन महीने के लिए बढ़ा भी सकती है.

      बता दें आईपीएस अधिकारी राकेश अस्थाना मूल रूप से झारखंड (Jharkhand) के रहने वाले हैं. और उन्हेंने झारखंड के नेतरहाड विद्यालय से अपनी पढ़ाई पूरी की है. वे 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी है. गौरतलब है सीबीआई में रहते हुए वे काफी सुर्खियों में छाए हुए थे और उनका कार्यकाल काफी विवादों में रहा. केंद्र सरकार ने बाद में उन्हें सीबीआई से हटाते हुए बीएसएफ का प्रमुख बना दिया था. मौजूदा समय में अस्थाना बीएसएफ के डीजी और एनसीबी प्रमुख का कार्यभार संभाल रहे हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज