Home /News /delhi-ncr /

इमरान क्रिकेटर है, उसे अपने संविधान का नहीं पता वो हमे सलाह देगा-आरिफ मोहम्मद

इमरान क्रिकेटर है, उसे अपने संविधान का नहीं पता वो हमे सलाह देगा-आरिफ मोहम्मद

फाइल फोटो- आरिफ मोहम्मद खान.

फाइल फोटो- आरिफ मोहम्मद खान.

नसीरुद्दीन शाह ने जो कहा है वो तो बहुत ही सामान्य सा है. 70 साल पहले मुस्लिम लीग ने ये बात कही थी तो देश बंटा था. मैं मानता हूं कि हमारी परेशानियां हैं, लेकिन इमरान खान का बीच में बोलना एक गाली जैसा है.

फिल्म एक्टर नसीरुद्दीन शाह के बयान पर विवाद अभी थमा नहीं है. सोशल मीडिया पर भी शाह के समर्थन और विरोध में अलग-अलग बात कही जा रही है. लेकिन इस मामले पर न्यूज18 हिन्दी ने जब पूर्व केन्द्रीय मंत्री और शाहबानो केस से जुड़े आरिफ मोहम्मद से बात की तो उनका कहना था,

"देखिए नसीरुद्दीन शाह ने जो कहा है वो तो बहुत ही सामान्य सा है. हालांकि 70 साल पहले मुस्लिम लीग ने भी एक गलत बात कही थी जिसके आधार पर देश का बंटवारा हो गया. मेरे ख्याल से नसीरुद्दीन शाह साहब के बयान को उस तरह से नहीं लेना चाहिए. ये उनकी भावना है. अगर किसी को कुछ महसूस होता है तो उसे नोटिस में ले सकते हैं, लेकिन इस तरह चर्चा का विषय नहीं बनाना चाहिए. नसीरुद्दीन एक तरक्की पसंद इंसान हैं. वो कतई साम्प्रदायिक इंसान नहीं हैं.

ये भी पढ़ें- इस मुस्लिम नेता ने कहा, बाबर नहीं भगवान राम हैं मुसलमानों के पूर्वज!

बस फर्क इतना है कि अगर कुछ परेशानी है तो उसको कहने का एक तरीका होता है. एक चीज याद रखिए कि हमारे देश में आजादी है. ये ठीक है कि हमारी कुछ परेशानियां हैं, उससे मैं इंकार नहीं करता.  रहा सवाल पाकिस्तान के पीएम इमरान खान का तो वो इमे बताएंगे कि इस देश में अल्पसंख्यक कैसे रहेंगे. इमरान खान का बोलना एक गाली जैसा है. पहले वो अपने देश में झांककर देखें. पाकिस्तान में 1953 में 17 प्रतिशत अल्पसंख्यक थे, और आज कितने हैं?

ये भी पढ़ें- मुसलमान केस जीत भी गए तो क्या 100 करोड़ हिंदू मस्जिद बनने देंगे? 

दूसरी बात ये कि इमरान खान एक क्रिकेटर हैं उन्हें अपने देश का संविधान तो पता नहीं तो हमारे संविधान के बारे में क्या पता होगा. ये ठीक वैसे ही है जैसे एक शराब की दुकान चलाने वाला हमे मानवता पर भाषण देगा. लेकिन सबसे बड़ी परेशानी की बात ये है कि कुछ दिन पहले ऑल इंडिया मेडिकल साइंस कांफ्रेंस हुई थी. वहां उठे मरीजों के दर्द को कोई महसूस नहीं करता. बेरोजगारी और गरीबी पर कोई बात नहीं करता. आज इस देश में मेरे अधिकार और पीएम नरेन्द्र मोदी के अधिकार एक जैसे हैं तो ये देश के संविधान की देन है."

ये भी पढ़ें- अयोध्या: राममंदिर के लिए यहां बन रहा है 11 सौ किलो का घंटा

Tags: Imran khan, Muslim, Naseeruddin shah, Pakistan, Pm narendra modi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर