दिल्‍ली हिंसा: केजरीवाल सरकार ने अब तक 38 लाख रुपये की मुआवजा राशि जारी की

लगभग 4 दिनों तक चली इस हिंसा में कई लोगों की जान चली गई थी. (फाइल फोटो)

दिल्ली में हिंसा (Delhi Violence) की घटनाओं के बाद केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने पीड़ितों को मुआवजा देने का काम शुरू कर दिया है. दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर-पूर्व और शाहदरा जिले में आने वाले इलाकों में लगभग 38 लाख की मुआवजा राशि जारी की है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली में हिंसा (Delhi Violence) की घटनाओं के बाद केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने पीड़ितों को मुआवजा देने का काम शुरू कर दिया है. दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी के उत्तर-पूर्व और शाहदरा जिले के हिंसा प्रभावित इलाकों में लगभग 38 लाख की मुआवजा राशि जारी की है. दिल्ली के उत्तर-पूर्वी जिले के जिलाधिकारी के कार्यालय से जारी सूचना के अनुसार, उत्तर-पूर्वी जिले में मौत की घटनाओं के बाद आश्रितों को 19 लाख का मुआवजा दिया जा चुका है. वहीं, घायलों को 5 लाख की मुआवजा राशि अब तक वितरित की जा चुकी है.

    संपत्ति का भी हुआ था नुकसान
    हिंसा की इस घटना के दौरान संपत्ति का भी बड़े पैमाने पर नुकसान हुआ था. इसके लिए दिल्ली सरकार ने 6 लाख 25 हजार की राशि पीड़ितों को वितरित की है. वहीं, शाहदरा जिले में पीड़ित के मौत के बाद आश्रित को 3 लाख, घायलों को 4 लाख और संपत्ति के नुकसान के बाद पीड़ितों को 7 लाख रुपए से ज्यादा की धनराशि बतौर मुआवजा जारी की है.

    रिलीफ कैंपों को मिल रहा सकारात्मक रुझान
    वहीं, एक अन्य खबर के अनुसार, दिल्ली सरकार ने हिंसा पीड़ित इलाके में रिलीफ कैम्प की शुरुआत की थी. इन रिलीफ कैंपों को काफी सकारात्मक रुझान मिल रहा है. दिल्ली सरकार की एक विज्ञप्ति के अनुसार, मुस्तफाबाद कैम्प में पिछले 24 घंटों के अंदर 1 हजार से ज्यादा हिंसा पीड़ितों ने शरण ली है.

    की गई है सारी व्यवस्थाएं
    यहां दिल्ली सरकार ने सभी जरूरी इंतजाम किया हुआ है. इसके अलावा बड़ी संख्या में वॉलेंटियर यहां मौजूद हैं. बता दें, दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाके में हिंसा की घटना के बाद दिल्ली सरकार ने राहत कैम्प खोला है. यहां शिवपुरी, मुस्तफाबाद और करावल नगर इलाके से हिंसा पीड़ित पहुंच रहे हैं.

    आसानी से मिल सकेगी सहायता राशि
    हिंसा पीड़ितों के लिए दिल्ली सरकार ने कई इंतजाम किए हैं. यहां हेल्पडेस्क भी बनाएं गए हैं. जिससे हिंसा पीड़ित परिवार के लोग आसानी से राहत राशि के लिए आवेदन कर सकेंगे. यहां पर बड़ी संख्या में आप के कार्यकर्ता भी मौजूद हैं.

    ये भी पढ़ें: 

    पुलिस बोली-कई शहरों में छिपता रहा शाहरुख, पत्‍थरबाजी के कारण तैश में चलाई गोली

    दिल्ली हिंसा:लापरवाही का जिम्मेदार कौन?गृह मंत्रालय ने पुलिस से तलब की रिपोर्ट

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.