MCD पार्कों में जल बोर्ड ने बंद किये बोरवेल! भाजपा नेता बोले-NGT के आदेशों का हो रहा गलत प्रयोग

एनजीटी के आदेशों पर दिल्ली जल बोर्ड निगम पार्कों में लगे बोरवेल को सील कर रहा है.

एनजीटी के आदेशों पर दिल्ली जल बोर्ड निगम पार्कों में लगे बोरवेल को सील कर रहा है.

भाजपा नेता आरोप लगा रहे हैं कि एनजीटी के आदेशों की आड़ में दिल्ली जल बोर्ड निगम पार्कों में लगे बोरवेल को सील कर रहा है. इसकी वजह से पार्कों में हरियाली बनाए रखना मुश्किल हो गया है. एनजीटी के फैसले को लेकर अब साउथ दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने जल बोर्ड की इस कार्रवाई को रुकवाने के लिये एनजीटी का दरवाजा खटखटाया है. दिल्ली में तीनों नगर निगमों के अंतर्गत लगभग 15500 पार्क हैं. अकेले दक्षिणी निगम (SDMC) के अंतर्गत लगभग 6000 पार्क हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 2, 2021, 12:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के पार्कों की बदहाली को लेकर अब आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति शुरू हो गई है. आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party) जहां भाजपा (BJP) शासित निगम को कटघरे मेंं खड़ी कर रही है. वहीं, भाजपा नेता आम आदमी पार्टी की‍‍ ‌दिल्ली सरकार (Delhi Government) पर आरोप लगाकर बचाव करने में जुटे हुए हैं.

भाजपा नेता आरोप लगा रहे हैं कि एनजीटी के आदेशों की आड़ में दिल्ली जल बोर्ड निगम पार्कों में लगे बोरवेल को सील कर रहा है. इसकी वजह से पार्कों में हरियाली बनाए रखना मुश्किल हो गया है. एनजीटी के फैसले को लेकर अब साउथ दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने जल बोर्ड की इस कार्रवाई को रुकवाने के लिये एनजीटी का दरवाजा खटखटाया है.

एसडीएमसी के नेता सदन नरेन्द्र चावला ने कहा कि आप आदमी पार्टी (Aam Adami Party) द्वारा नगर निगमों पर पार्कों के रख-रखाव को लेकर झूठे आरोप लगाये जा रहे है. यह दिल्ली सरकार (Delhi Government) की जिम्मेदारी है कि निगम पार्कों तक शोधित जल पहुंचाये.

राष्ट्रीय हरित अधिकरण (National Green Tribunal) के आदेशानुसार सम्पूर्ण दिल्ली में जल बोर्ड (Jal Board) द्वारा एक अभियान चलाया जा रहा है जिसमे कि सभी बोरवेल को सील किया जा रहा. इस निर्णय के खिलाफ दक्षिणी निगम (South Corporation) ने राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) में याचिका दायर की और दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) को भी कई पत्र लिखे.
उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने अपने पिछले आदेश में यह स्पष्ट किया है कि यह दिल्ली सरकार सुनिश्चित करेगी कि नगर निगमों के पार्कों तक पानी की सप्लाई निरंतर जारी रहे. दिल्ली सरकार अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ रही है और उल्टा नगर निगमों पर निराधार आरोप लगा रही है.

दक्षिणी निगम (SDMC) अपने लगभग 6000 पार्कों का बेहतर तरीके से रख-रखाव करने का प्रयास कर रहा है. लेकिन पर्याप्त पानी के अभाव में ऐसा करना अत्यंत मुश्किल हो चला है. इसलिए हम दिल्ली जल बोर्ड और राष्ट्रीय हरित अधिकरण के पास भी गये.

उधर, दिल्ली भाजपा (BJP) प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा कि एन.जी.टी. के इस संदर्भ में सबसे ताजा 26 मार्च 2021 के आदेश के पाइंट 2 में साफ कहा गया है कि दिल्ली जल बोर्ड अपने एस.टी.पी. से नगर निगमों को अपने खर्चें पर टैंकर व्यवस्था कर पार्कों की सिंचाई के लियें निःशुल्क जल उपलब्ध करायेगा. जल बोर्ड को एस.टी.पी. से पार्कों तक निःशुल्क पाईप लाईन भी डालनी होगी.



दिल्ली भाजपा प्रवक्ता ने कहा है कि यह दुःखद है कि आम आदमी पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने संवैधानिक संस्था एन.जी.टी. के आदेश को गलत पढ़ कर गलत दर्शाने की कोशिश की जो निंदनीय है और हम इसे एन.जी.टी. प्रमुख के संज्ञान में लायेंगे.

बेहतर होगा की गलत ब्यानी करने की जगह आम आदमी पार्टी नेता नगर निगमों के फंड जारी करें ताकि निगम अपने पार्कों का और बेहतर रख रखाव कर सकें. दिल्ली में तीनों नगर निगमों के अंतर्गत लगभग 15500 पार्क हैं. और सौरभ भारद्वाज को मालूम होना चाहिए इनमें से 1000 से कम आर.डब्लू.ए. के रख रखाव में हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज