• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • DJB अफसरों को राघव चड्ढा की चेतावनी, कहा-पानी के ज्‍यादा आ रहे ब‍िल ठीक करो वरना होगी कार्रवाई

DJB अफसरों को राघव चड्ढा की चेतावनी, कहा-पानी के ज्‍यादा आ रहे ब‍िल ठीक करो वरना होगी कार्रवाई

राघव चड्ढा ने एनई -1 जीटीबी एन्क्लेव जोनल राजस्व कार्यालय का औचक निरीक्षण किया है.

राघव चड्ढा ने एनई -1 जीटीबी एन्क्लेव जोनल राजस्व कार्यालय का औचक निरीक्षण किया है.

Delhi Jal Board: दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा को सीमापुरी, सुंदर नगरी जैसे आसपास के क्षेत्रों के लोगों से बढ़े हुए बिलिंग की शिकायतें मिलीं. इसके बाद चड्ढा ने एनई -1 जीटीबी एन्क्लेव जोनल राजस्व कार्यालय का औचक निरीक्षण किया है. एक सप्ताह के भीतर बिल संबंधी सभी शिकायतों का समाधान करें. यदि एक सप्ताह में बिलों का समाधान नहीं किया जाता है तो जेडआरओ को निलंबित कर दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. द‍िल्‍ली में पानी के बढ़े हुए बिलों की शिकायत पर अब सरकार ने गंभीर रूख अख्‍त‍ियार क‍िया है. दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा (Raghav Chadha) को सीमापुरी, सुंदर नगरी जैसे आसपास के क्षेत्रों के लोगों से बढ़े हुए बिलिंग की शिकायतें मिलीं. इसके बाद राघव चड्ढा ने एनई -1 जीटीबी एन्क्लेव जोनल राजस्व कार्यालय का औचक निरीक्षण किया है.

    राघव चड्ढा ने कहा कि मेरे संज्ञान में आया है कि कोविड-19 के दौरान पिछले कुछ बिलिंग राउंड में गलत वाटर मीटर रीडिंग के आधार पर बिल जेनरेट किए जा रहे हैं. ऐसे सभी बिलों के एल्गोरिदमिक रुझानों को अधिकारियों द्वारा जांचना होगा, ताकि उपभोक्ता 20केएल योजना का लाभ उठा सकें.

    ये भी पढ़ें: Delhi-NCR के 260 ठेके 1 अक्टूबर से होंगे बंद, अब यहां से खरीद सकेंगे शराब

    इस गलत बिलिंग का डीजेबी (DJB) के बिलिंग प्रक्रिया पर गलत प्रभाव पड़ता है. यहां मौजूद प्रत्येक कर्मचारी के लिए यह समझना बेहद आवश्यक है कि पानी मीटर के संबंध में टैबलेट पर दी गई सभी जानकारी सही होनी चाहिए. पानी मीटर की जो रीडिंग लेता है वह सरकार और उपभोक्ताओं के बीच एक महत्वपूर्ण सेतु है.

    दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने कहा कि जेडआरओ और जेटी को राजस्व क्षेत्र के सभी घरों का पुनरीक्षण करने का निर्देश दिया है. मीटर रीडिंग की स्वयं ठीक से जांच करें और एक सप्ताह के भीतर बिल संबंधी सभी शिकायतों का समाधान करें. यदि एक सप्ताह में बिलों का समाधान नहीं किया जाता है तो जेडआरओ को निलंबित कर दिया जाएगा.

    चड्ढा पानी के बिलों को लेकर काफी सख्त थे. उन्होंने कहा कि औसतन पानी के बिलों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. दिल्ली जल बोर्ड की जिम्मेदारी है कि केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) के दिल्ली वासियों को चौबीसों घंटे पानी उपलब्ध कराने के वादे को पूरा करने के साथ 25 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को सही बिल जारी किए जाएं. जिससे उन्हें डीजेबी से कोई शिकायत न रहे. इस तरह का भ्रष्टाचार डीजेबी के किसी भी जोन में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्‍होंने कहा कि उपभोक्ता राजस्व प्रबंधन प्रणाली (आरएमएस) की वेबसाइट www.djb.gov.in पर भी शिकायत दर्ज कर सकते हैं.

    टैबलेट का अधिकतम उपयोग
    राघव चड्ढा ने सभी 41 जेडआरओ को पहले से उपलब्ध एंड्रॉइड आधारित टैबलेट का अधिकतम उपयोग करने का भी निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि डीजेबी की बिलिंग प्रणाली में पारदर्शिता को अधिकतम करने के लिए बिल तैयार करने के लिए टैबलेट का 100 फीसदी उपयोग होना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज