Home /News /delhi-ncr /

दिल्‍ली चिल्‍ड्रन होम से 10 लड़कियां अगवा होने का मामला, अब DMRC ने कहा होम में रहते हैं सिर्फ लड़के  

दिल्‍ली चिल्‍ड्रन होम से 10 लड़कियां अगवा होने का मामला, अब DMRC ने कहा होम में रहते हैं सिर्फ लड़के  

दिल्‍ली के एक चिल्‍ड्रन होम से 10 लड़कियों के अगवा होने का मामला सामने आया है.

दिल्‍ली के एक चिल्‍ड्रन होम से 10 लड़कियों के अगवा होने का मामला सामने आया है.

दिल्‍ली के डीएमआरसी चिल्‍ड्रन होम से लड़कियों के अगवा होने को लेकर दिल्ली के द्वाराका सेक्टर-23 पुलिस थाने में 24 मई को रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी. इस मामले में अब डीएमआरसी ने कहा है कि सलाम बालक ट्रस्‍ट की ओर से चलाए जाने वाले इस होम में सिर्फ लड़कों को रखा जाता है.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. राजधानी के तीस हजारी स्थित डीएमआरसी चिल्‍ड्रन होम से 10 लड़कियों के अपहरण (Kidnapping) की खबर से हड़कंप मच गया है. बताया जा रहा है कि ये लड़कियां तीन मई 2021 से होम से गायब हैं और इनका अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है. वहीं डीएमआरसी चिल्‍ड्रन होम (DMRC Children Home) का नाम आने पर अब दिल्‍ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) ने सफाई दी है.

    डीएमआरसी के एक्‍जीक्‍यूटिव डायरेक्‍टर कॉर्पोरेट कम्‍यूनिकेशन अनुज दयाल की ओर से कहा गया है कि दिल्‍ली पुलिस की ओर से 10 लड़कियों के अपहरण (Girls Kidnapping) को लेकर एक अखबार में विज्ञापन (Advertisement) दिया गया है. जिसमें कहा गया है कि ये लड़कियां डीएमआरसी के चिल्‍ड्रन होम से गायब हैं.

    ऐसे में डीएमआरसी यह स्‍पष्‍ट करना चाहता है कि सलाम बालक ट्रस्‍ट (Salam Balak Trust) की ओर से चलाए जाने वाले इस होम में सिर्फ लड़कों को रखा जाता है. दयाल की ओर से कहा गया कि यहां कोई लड़की नहीं रहती. ऐसे में जो भी घटना हुई है उसका डीएमआरसी के चिल्‍ड्रन होम से कोई लेना देना नहीं है.

    बता दें कि दिल्‍ली के चिल्‍ड्रन होम से लड़कियों के अगवा होने को लेकर दिल्ली के द्वाराका सेक्टर-23 पुलिस थाने में 24 मई को रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी. यह पूरा मामला तब खुला​जब इनकी तलाश कर रही दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को एक अखबार में विज्ञापन दिया. पुलिस ने इन लड़कियों के बारे में जानकारी दी है और लोगों से इनके संबंध में पुलिस को सूचना देने की अपील की है.

    इस विज्ञापन में होम से निशा, सुष्मिता, सीता, सुषमा, सुशीला, सांचमाया, सिम्मी, संगीता, स्वीटी और अनीषा नाम की लड़कियों के अपहरण की बात कही गई है. इनकी जानकारी देने के साथ ही इनकी फोटो भी विज्ञापन में छपी है. सभी की उम्र 20 से 26 साल के बीच है.

    बता दें कि जिस चिल्‍ड्रन होम (Children Home) की बात की जा रही है उसे डीएमआरसी ने स्ट्रीट चिल्ड्रेंस के लिए 2010 में बनाकर तैयार किया और इसे संभालने के लिए सलाम बालक ट्रस्‍ट नाम के एनजीओ को जिम्‍मेदारी दी थी. सलाम बालक ट्रस्ट राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कार्यशील और बेसहारा बच्चों को सहायता प्रदान करता है.

    Tags: Delhi news, DMRC, Kidnapping, Kidnapping Case

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर