Home /News /delhi-ncr /

डॉ हर्षवर्धन बोले-देशभर में 1.84 करोड़ को लगाया कोरोना टीका, राज्यों में बढ़ते मामले लापरवाही का नतीजा!

डॉ हर्षवर्धन बोले-देशभर में 1.84 करोड़ को लगाया कोरोना टीका, राज्यों में बढ़ते मामले लापरवाही का नतीजा!

डॉ हर्षवर्धन ने कहा क‍ि देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर से बढ़ना चिंताजनक हैं. (File Photo)

डॉ हर्षवर्धन ने कहा क‍ि देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर से बढ़ना चिंताजनक हैं. (File Photo)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा है कि देश में एक करोड़ 84 लाख से ज़्यादा लोगों को कोविड का टीका लग चुका है. लेकिन देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं और चिंताजनक हैं. लोग किसी तरह की गलतफहमी न पाले और लापरवाही न बरतें. सभी लगातार कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाएं. स्वास्थ्य मंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि हमें कोविड टीकाकरण (Covid Vaccination) को एक जन आंदोलन का रूप देना होगा.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण (Union Health & Family Welfare) , विज्ञान और प्रोद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन (Dr. Harsh Vardhan) ने कहा कि देश में एक करोड़ 84 लाख से ज़्यादा लोगों को कोविड का टीका लग चुका है. लेकिन देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं और चिंताजनक हैं.

    इस पर चिंता जताते हुए डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि लोग किसी तरह की गलतफहमी न पाले और लापरवाही न बरतें. सभी लगातार कोविड अनुरूप व्यवहार अपनाएं. स्वास्थ्य मंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि हमें कोविड टीकाकरण  (Covid Vaccination) को एक जन आंदोलन का रूप देना होगा.

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा कि कोरोना काल के दौरान भारतीय चिकित्सा अनुसन्धान परिषद (ICMR) द्वारा किये गए कार्य प्रशंसनीय रहे. उन्होंने कहा कि इस महामारी के दौरान परिषद ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. वायु में पार्टिकुलेट मैटर 2.5 और नाइट्रस ऑक्साइड (एनई2) के होने से एसएआरएस-CoV2 संक्रमण फैलता है. आज भारत 71 देशों को कोविड दवा (COVID Vaccine) दे रहा है. इनमें कनाडा (Canada) और ब्राज़ील (Brazil) जैसे देश शामिल हैं.

    बताते चलें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने आज भोपाल (Bhopal) में राष्ट्रीय पर्यावरणीय स्वास्थ्य अनुसन्धान संस्थान (एनआईआरईएच-निरेह) के नवीन हरित प्रांगण (Green Courtyard) का उद्घाटन किया. करीब 4.20 लाख वर्ग फ़ीट क्षेत्र में फैले इस ग्रीन एरिया को लगभग 124 करोड़ से निर्मित किया जाएगा. ये मध्य प्रदेश में इतने वृहद आकर (Extensively) की पहली इमारत है.

    डॉ. हर्ष वर्धन ने इस मौके पर कहा कि ये सुनिश्चित किया जाना चाहिए की वैज्ञानिक अनुसन्धान का लाभ मानव कल्याण के लिए मिले और लोगों की मूल समस्याओं का समाधान हो. उन्होंने कहा कि ये वैज्ञानिकों की वैज्ञानिक, सामाजिक ज़िम्मेदारी भी है. पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र  में भारत की भूमिका को मिली विश्वव्यापी सराहना का उल्लेख करते हुए डॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की उज्जवला, स्वस्थ भारत जैसी सभी योजनाएं और कार्य पर्यावरण की सात्विकता को अक्षुण्ण बनाये रखने वाले हैं.

    डॉ. हर्ष  वर्धन ने कहा कि तेजी से हो रहे शहरीकरण और विकास गतिविधियों के कारण पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है. वायु, जल, धरती, जैव विविधता में गिरावट के फलस्वरूप वैश्विक मानवीय स्वास्थ्य प्रभावित हुआ है. भारत पर्यावरण में क्षति का प्रमुख योगदानकर्ता नहीं है. हम पर्यावरण के संरक्षण के लिए वचनबद्ध हैं.

    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में वैश्विक सौर गठबंधन के अंतर्गत स्वच्छ ईंधन प्रदान करने के कार्य को गति मिल रही है. स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Abhiyan) हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है. उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि निरेह वैश्विक संचार के माध्यम से मानव के व्यवहार में परिवर्तन लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. आज इस बात की आवश्यकता है कि पर्यावरण अनुकूल व्यवहार अपनाने के लिए जनता को शिक्षित और प्रेरित किया जाए.

    मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी (Prabhuram Chaudhary) ने कहा कि राष्ट्रीय पर्यावरणीय स्वास्थ्य अनुसन्धान संस्थान जैसी संस्थाओं की आज बड़ी आवश्यकता है. उन्होंने आशा जताई कि ये संस्थान देश भर में अपनी अलग पहचान बनाएगा.

    भारतीय चिकित्सा अनुसन्धान परिषद (Indian Council of Medical Research) के महानिदेशक बलराम भार्गव ने इस मौके पर कहा कि निरेह की नई इमारत भारतीय वास्तुकला के अनुरूप है. उन्होंने आशा जताई कि संस्थान अंतर्राष्ट्रीय जगत में अपनी मौजूदगी दर्ज कराएगा.

    उन्होंने बताया कि वैज्ञानिकों के रिक्त पद अगले साठ दिनों में भरे जायेंगे. निरेह के निदेशक डॉ आर आर तिवारी ने कार्यक्रम की शुरुआत में सभी का स्वागत किया. केंद्रीय मंत्री ने संस्थान की विभिन्न प्रयोगशालों का निरीक्षण किया तथा संस्थान परिसर में एक पौधा भी रौपा.

    Tags: Corona vaccine, Corona Virus in Delhi, COVID 19, Environment, Health Minister Dr Harsh Vardhan, ICMR

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर