Delhi News: DRDO ने AIIMS और RML अस्पताल में लगाए ऑक्‍सीजन प्लांट, आज शाम से शुरू होगा उत्पादन

ऑक्‍सीजन प्‍लांट से एम्स ट्रॉमा सेंटर और आरएमएल अस्पताल को बड़ी राहत मिलेगी.

ऑक्‍सीजन प्‍लांट से एम्स ट्रॉमा सेंटर और आरएमएल अस्पताल को बड़ी राहत मिलेगी.

Oxygen Crisis in Delhi: रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने दिल्‍ली के एम्स ट्रॉमा सेंटर (AIIMS Trauma Center) और आरएमएल अस्पताल (RML Hospital) में ऑक्सीजन प्लांट लगा दिए हैं. इन दोनों प्‍लांट में आज शाम से ऑक्‍सीजन का उत्‍पादन शुरू हो जाएगा. इसके बाद बाहर से ऑक्‍सजीन की सप्‍लाई नहीं होगी.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. ऑक्‍सीजन के संकट से जूझ रही देश की राजधानी दिल्‍ली के अस्पतालों को बड़ी राहत मिली है. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) के सहयोग से एम्स ट्रॉमा सेंटर (AIIMS Trauma Center) और आरएमएल अस्पताल (RML Hospital) में ऑक्सीजन प्लांट लगाए दिए हैं. इस बाबत डीआडीओ के एडिशनल डायरेक्टर देवेंद्र शर्मा ने बताया कि ये शाम तक काम करना शुरू कर देंगे. बता दें कि ये ऑक्सीजन प्लांट कोयम्बटूर से विमान के जरिए मंगलवार को ही दिल्ली लाए ग थे और बुधवार को इनको लगा दिया गया.

इसके अलावा अगले कुछ दिनों में ही दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल, लेडी हार्डिंग अस्पताल और एम्स (झज्जर) में भी ये ऑक्सीजन प्लांट लगा दिए जाएंगे. इसके बाद इन अस्पतालों को बाहर से ऑक्सीजन सप्लाई की जरूरत नहीं पड़ेगी. जबकि रक्षा मंत्रालय ने बताया कि इन दो संयंत्रों (एम्स ट्रॉमा सेंटर और आरएमएल अस्पताल) के उपकरण की डीआरडीओ की प्रौद्योगिकी भागीदार कंपनी ट्राइडेंट न्यूमेटिक्स प्राइवेट लिमिटेड ने आपूर्ति की है और 48 संयंत्रों के उपकरणों के लिए ऑर्डर दिए गए हैं.

Youtube Video

डीआरडीओ ने 28 अप्रैल को कहा था कि वह पीएम-केयर्स कोष द्वारा किए गए आवंटन से अगले तीन महीने के भीतर चिकित्सकीय ऑक्सीजन के लिए 500 संयंत्र स्थापित करेगा. बता दें कि दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए मेडिकल ऑक्सीजन के संकट को देखते हुए आज हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार को कड़ी फटकार लगाई. अदालत ने ऑक्सीजन संकट को लेकर दायर याचिका की सुनवाई करते हुए यह भी टिप्पणी की कि केंद्र सरकार ने कोर्ट के निर्देशों की अवहेलना की है, इसलिए क्यों नहीं केंद्र के खिलाफ अवमानना का मामला चलाया जाए.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज