लाइव टीवी

गांजा-हेरोइन के अलावा पंजाब में सबसे ज्यादा पकड़ा जा रहा है यह खास नशा

News18Hindi
Updated: February 14, 2020, 12:23 PM IST
गांजा-हेरोइन के अलावा पंजाब में सबसे ज्यादा पकड़ा जा रहा है यह खास नशा
Demo Pic.

नशे के कारोबार के यह आंकड़े ऐसे वक्त में आए हैं जब नई दिल्ली (New Delhi) में 'नशे की तस्करी से मुकाबला' (Drug trafficking) विषय पर बिम्सटेक (Bimstec) देशों के लिए दो दिन का सम्मेलन चल रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 14, 2020, 12:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बेशक ड्रग तस्करी (Drug trafficking) को रोकना राष्ट्रीय मुद्दा है. लेकिन पंजाब (Punjab) का नाम आते ही यह परेशानी और बढ़ जाती है. पंजाब की हालत आज किसी से छिपी नहीं है. लेकिन अब बीते कुछ वक्त से पंजाब में हेरोइन-गांजे की जगह दूसरे तरह का ही नशे का सामान पकड़ा जा रहा है. जानकार इसके पंजाब में ज्यादा आने की वजह इसका सस्ता होना बता रहे हैं. देशभर में नशे के कारोबारी भी सबसे ज्यादा पंजाब में ही पकड़े गए हैं. नशे के कारोबार के यह आंकड़े ऐसे वक्त में आए हैं जब नई दिल्ली (New Delhi) में 'नशे की तस्करी से मुकाबला' विषय पर बिम्सटेक (Bimstec) देशों के लिए दो दिन का सम्मेलन चल रहा है.

हैरान करते हैं नशे के कारोबार से जुडे पंजाब के आंकड़े

अगर 2015 से 2018 तक की बात करें तो इस वक्त में पंजाब में बड़ी संख्या में गांजा, हेरोइन, अफीम, नशे की गोलिया पकड़ी गई हैं. इस सब में सबसे ज्यादा संख्या 1.59 करोड़ नशे की गोलियों की है. इसके अलावा 5.5 हजार किलो गांजा और 1900 किलो हेरोइन भी पकड़ी जा चुकी है. लेकिन एक अच्छी बात यह है कि नशे के कारोबारियों से निपटने के लिए अलर्ट पंजाब पुलिस बीते चार साल में 47 हजार तस्करों को गिरफ्तार कर चुकी है.

इन राज्यों में भी खपाई जा रही हैं नशे की गोलियां

नशे की गोलियों की सप्लाई सिर्फ पंजाब ही नहीं, यूपी, गुजरात, मणिपुर, राजस्थान और महाराष्ट्र में भी बहुत हो रही है. यूपी में 22.24, मणिपुर में 22.69, राजस्थान में 19.61, महाराष्ट्र 19.27 और गुजरात में 11 लाख गोलियां पकड़ी गई हैं. इसके साथ ही देशभर में चार साल के अंदर 2.68 लाख किलो गांजा, 3853 किलो हेरोइन, 7585 किलो अफीम हो चुकी है बरामद. वहीं चार साल में 1.87 लाख ड्रग तस्करों को जेल भेजा गया है. हाल ही में यह आंकड़े गृह मंत्रालय ने जारी किए हैं.

किस राज्य में कितना पकड़ा गया नशे का सामान.


नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो आयोजित कर रहा है सम्मेलन नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ओर से बिम्सटेक देशों के लिए नारकोटिक्स ड्रग्स जैसे संवेदनशील विषय पर दिल्ली में दो दिन का सम्मेलन आयोजित किया गया है. गुरुवार से शुक्रवार तक यह सम्मेलन विज्ञान भवन में चला. इन दो दिनों में इन विषयों से सबंधित सभी पहलुओं पर विचार विमर्श हुआ और कुछ निर्णय भी लिए गए.

ये भी पढ़ें- Exclusive:आसमान में जाम हो गए थे बंगाल की खाड़ी में गिरे AN-32 एयरक्राफ्ट के कंट्रोल सिस्टम!

शहीद का दर्जा पाने के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे CRPF-BSF के रिटायर्ड जवान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 12:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर