ओल्ड एज होम में कोरोना से हुई दो बुजुर्गों की मौत, 6 और आये पॉजिटिव, सुविधाओं का जायजा लेने पहुंचे मंत्री

दिल्ली सरकार (Delhi Government) अपने अधीनस्थ चलने वाले ओल्ड एज होम में रहने वाले बुजुर्गों के स्वास्थ्य को लेकर भी बेहद चिंतित है. (File Photo)

दिल्ली सरकार (Delhi Government) अपने अधीनस्थ चलने वाले ओल्ड एज होम में रहने वाले बुजुर्गों के स्वास्थ्य को लेकर भी बेहद चिंतित है. (File Photo)

बिंदापुर वृद्धाश्रम में कुल 57 बुजुर्ग रह रहे हैं, जिनमें 45 महिला और 12 पुरुष हैं. कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए सभी बुजुर्गों का कोरोना टेस्ट कराया गया, जिसमें 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. कोरोना की वजह से इस वृद्धाश्रम में दो बुजुर्गों की मृत्यु भी हुई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना (Corona) संक्रमित मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. ऐसे में दिल्ली सरकार (Delhi Government) अपने अधीनस्थ चलने वाले ओल्ड एज होम में रहने वाले बुजुर्गों के स्वास्थ्य को लेकर भी बेहद चिंतित है. ऐसे में ओल्ड एज होम में दी जा रही बुजुर्गों की सुविधाओं का समाज कल्याण मंत्री जायजा भी ले रहे हैं.

बिंदापुर स्थित वृद्धाश्रम के औचक निरीक्षण के दौरान मंत्री ने बुजुर्गों दी जा सभी सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की. उन्हें हो रही परेशानियों व जरूरतों की भी जानकारी ली.

गौतम ने इस बात पर खुशी जाहिर करते हुए बताया कि सरकार के वृद्धाश्रम में बुजुर्गों का अच्छी तरह से ख्याल रखा जा रहा है. और उन्हें पौष्टिक भोजन के साथ-साथ सभी प्रकार की चिकित्सीय सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं.

वृद्धाश्रम में रह रहे बुजुर्गों ने कैबिनेट मंत्री को अवगत कराया कि उन्हें यहां समय पर नाश्ता, दूध, भोजन, फल आदि दिए जा रहे हैं और उनकी सभी जरूरी सुविधाओं का अच्छी तरह से ख्याल रखा जा रहा है.
बिंदापुर वृद्धाश्रम में कुल 57 बुजुर्ग रह रहे हैं, जिनमें 45 महिला और 12 पुरुष हैं. कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए सभी बुजुर्गों का कोरोना टेस्ट कराया गया, जिसमें 6 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इनमें से पांच को कोविड सेंटर सुल्तानपुरी में भेजा गया है, जबकि एक बुजुर्ग का सत्यवादी हरिशचंद्र हॉस्पिटल, नरेला में इलाज चल रहा है. कोरोना की वजह से इस वृद्धाश्रम में दो बुजुर्गों की मृत्यु भी हुई है, जिनमें एक महिला 96 वर्ष की थी और एक पुरुष 91 वर्ष के शामिल हैं.

वृद्धाश्रम के अधीक्षक को आदेश देते हुये मंत्री गौतम ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी बुजुर्ग को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े. बुजुर्गों को दी जाने वाली सभी सुविधाएं उन्हें समय पर मिले और समय-समय पर उनकी चिकित्सीय जांच भी होती रहे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज