बच्‍चों की ऑनलाइन क्‍लास के चलते दंपति में हुआ झगड़ा, गुस्‍से में पत्‍नी ने खुद को आग लगा की खुदकुशी

नव-विवाहिता की हत्या कर शव जलाया (सांकेतिक फोटो)
नव-विवाहिता की हत्या कर शव जलाया (सांकेतिक फोटो)

29 वर्षीय ज्‍योति (Jyoti) को 90 फीसदी झुलसी हालत में सफदरजंग अस्‍पताल (Safdarjung Hospital) पहुंचाया गया, जहां उसे डॉक्‍टर्स ने मृत घोषित कर दिया.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते लगभग सभी स्‍कूल बच्‍चों को ऑनलाइन क्‍लासेज (Online Classes) के जरिये पढ़ा रहे हैं. यही ऑनलाइन क्‍लासेस एक परिवार की बर्बादी का कारण बन गया. जी हां, यह मामला दिल्‍ली के मैदानगढ़ी इलाके का है. जहां एक महिला ने खुद को सिर्फ इसलिए आग के हवाले कर‍ दिया, क्‍यों कि उसका पति बच्‍चों की ऑनलाइन क्‍लासेज के लिए उसे स्‍मार्ट फोन नहीं दिला रहा था. इस घटना में महिला की इलाज के दौरान मृत्‍यु हो गई. पुलिस ने मृतका की पहचान 29 वर्षीय ज्‍योति मिश्रा के रूप में की है.

जानकारी के अनुसार, लॉकडाउन के चलते ज्‍यादातर स्‍कूलों में ऑनलाइन क्‍लासेज चल रही हैं. बीते कुछ दिनों से ज्‍योति अपने बच्‍चों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए अपने पति प्रमोद से स्‍मार्ट फोन की मांग कर रही थी. पति लगातार उससे लॉकडाउन के बाद स्‍मार्ट फोन दिलाने की बात कर देता. 27 मई की सुबह करीब आठ बजे पति-पत्‍नी के बीच स्‍मार्ट फोन को लेकर झगड़ा हो गया. इस झगड़े से झल्‍लाई ज्‍योति ने खुद को आग के हवाले कर दिया. वहीं, इस घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और ज्‍योति को लेकर सफदरजंग अस्‍पताल पहुंची.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, सफरदजंग के डाक्‍टर ने पुलिस बताया कि ज्‍योति करीब 90 फीसदी झुलस गई है. सफदरजंग अस्‍पताल में ज्‍योति का इलाज शुरू होता इससे पहले उसकी मृत्‍यु हो गई. पुलिस के अनुसार, ज्‍योति मिश्रा की 2013 में सुल्‍तानपुरी इलाके में रहने वाले प्रमोद मिश्र के साथ शादी हुई थी. शादी से अब तक सब कुछ ठीक चलता रहा. वहीं, घटना की जानकारी मिलने के बाद ज्‍योति के परिजन भी मौके पर पहुंच गए. हालांकि उन्‍होंने पुलिस को किसी के खिलाफ कोई शिकायत नहीं दी है. फिलहाल, पुलिस मामले की सभी कोणों पर जांच कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज