Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली: ED की बड़ी कार्रवाई, UNITECH कंपनी के संस्थापक सहित 2 अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार

दिल्ली: ED की बड़ी कार्रवाई, UNITECH कंपनी के संस्थापक सहित 2 अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार

आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद अब विस्तार से ईडी की टीम पूछताछ करेगी (सांकेतिक फोटो)

आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद अब विस्तार से ईडी की टीम पूछताछ करेगी (सांकेतिक फोटो)

Delhi News: जांच एजेंसी ईडी इस मामले में अब तक करीब 600 करोड़ रूपये की कई चल और अचल संपत्ति को कुर्क कर चुकी है. कुर्क संपत्तियों में कई संपत्ति देश मे कई शहरों में स्थित है , इसके साथ ही कई संपत्ति विदेश में भी है . ​

    दिल्ली. केन्द्रीय जांच एजेंसी ईडी (Enforcement Directorate)  ने एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए युनिटेक (Unitech)  से जुड़े फर्जीवाडा मामले में तीन प्रमुख आरोपियों  को गिरफ्तार किया है. केन्द्रीय जांच एजेंसी ईडी (ED)  के सूत्रों के मुताबिक रमेश चंद्रा, प्रीति चंद्रा और राजेश मल्लिक नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपी रमेश चंद्रा (Ramesh chandra)  युनिटेक कंपनी के संस्थापक सदस्य हैं जबकि दूसरी गिरफ्तार आरोपी प्रीति चंद्रा (Preeti chandra)  उनकी बहू हैं. इन आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद अब विस्तार से ईडी की टीम पूछताछ करेगी.

    मंगलवार को ईडी की टीम दिल्ली स्थित ईडी की विशेष कोर्ट में इन तीनों आरोपियों को पेश करके आगे की रिमांड के लिए कोर्ट में दलील देगी. आरोपी राजेश मल्लिक का युनिटेक के संस्थापक सदस्यों सहित उस कंपनी के तमाम वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बेहद करीबी संबंध रहा है. इसके साथ ही कार्नोस्टी मैनेजमेंट (इंडिया ) प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के निदेशक भी हैं.

    30 सितंबर तक सुप्रीम कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट करनी है दाखिल

    हाल ही में यूनिटेक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस (Delhi police) और केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी (ED) को इस मामले की तफ्तीश की स्टेटस रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपने के लिए निर्देश दिया था. इसके साथ ही ये भी स्पष्ट तौर पर लिखित तौर पर निर्देश दिया गया था कि 30 सितंबर तक स्टेटस रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट ने दाखिल करने की डेडलाइन है. इस मामले की गंभीरता को देखते हुए पिछले कुछ समय पहले दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) मुंबई भी गए थे और उसके बाद इस मामले की तफ्तीश को खुद से मॉनिटर कर रहे है.

    सुप्रीम कोर्ट के  जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह की बेंच ने दिल्ली पुलिस और जांच एजेंसी ईडी को सीलबंद लिफाफे में रिपोर्ट कोर्ट में दाखिल करने का निर्देश दिया गया था. पिछली सुनवाई के दौरान 26 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने यह निर्देश दिया था कि यूनिटेक के पूर्व प्रमोटरों संजय चंद्रा (Sanjay Chandra )  और अजय चंद्रा को दिल्ली के तिहाड़ जेल (Tihar Jail )  से मुंबई की आर्थर रोड जेल और तलोजा जेल में स्थानांतरित कर दिया जाए. क्योंकि यह दोनों आरोपी दिल्ली स्थित तिहाड़ जेल से अवैध तरीके से फर्जीवाड़े को अंजाम दे रहे थे.

    Tags: Directorate of Enforcement, Enforcement directorate

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर