ED के रडार पर पंजाब सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह के बेटे रनिंदर सिंह, विदेशों में मौजूद संपत्तियों के बारे में होगी पूछताछ

रनिन्दर सिंह पर फेमा कानून के उल्लंघन का आरोप है.
रनिन्दर सिंह पर फेमा कानून के उल्लंघन का आरोप है.

सूत्रों के मुताबिक फेमा कानून (FEMA) का उल्लंघन करने के आरोप में रनिंदर सिंह से पूछताछ होगी. इसके लिए उन्हें मंगलवार सुबह साढ़े 10 बजे जालंधर स्थित ईडी दफ्तर में बुलाया गया है.

  • News18.com
  • Last Updated: October 23, 2020, 10:39 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए रनिंदर सिंह को नोटिस भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया है. रनिंदर सिंह पंजाब के मुख्यमंत्री (Cheif Minister of Punjab) कैप्टन अमरेंद्र सिंह (Captain Amrendra Singh) के बेटे हैं. रनिंदर को पूछताछ के लिए मंगलवार सुबह साढ़े 10 बजे जालंधर स्थित दफ्तर में बुलाया गया है. ईडी सूत्रों के मुताबिक फेमा कानून (FEMA) का उल्लंघन करने के आरोप में रनिंदर सिंह से पूछताछ होगी.

सूत्रों के मुताबिक रनिंदर सिंह पर ये आरोप है कि उन्होंने अपनी कई ऐसी विदेशी संपत्तियों के बारे में इनकम टैक्स विभाग को लिखित तौर पर गलत जानकारी प्रदान की है. कई विदेशी चल -अचल  संपत्तियों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियों को इनकम टैक्स द्वारा पूछे जाने के बाद भी सही जानकारी नहीं प्रदान की है. लिहाजा इस मामले में इनकम टैक्स ने जो मामला दर्ज किया है, उसी को आधार बनाते हुए अब ED ने भी मामला दर्ज कर पूछताछ के लिए बुलाया है.

ईडी के सूत्रों के मुताबिक पूछताछ में रनिंदर सिंह के द्वारा जो भी बताया जाएगा उसे उन्हीं के शब्दों में लिखित तौर पर लिया जाएगा या बयान के बाद उसको पढ़ाने के बाद रनिंदर सिंह हस्ताक्षर करेंगे. ईडी को दिए गए बयान की बात करें, तो कोर्ट में उसे काफी महत्वपूर्ण माना जाता है.




ये है आरोप 

मुख्यमंत्री अमरेंद्र सिंह के बेटे रनिंदर सिंह पर आरोप है कि उन्होंने इनकम टैक्स विभाग (Income tax of india) को वित्तीय वर्ष 2005 -06 और 2006-07 के दौरान उसके तमाम संपत्तियों सहित आय -व्यय का जो विवरण दिया गया था, उसमें उन्होंने अपने कई ऐसी चल -अचल संपत्तियों के बारे में जानकारी को छुपा लिया, जो विदेशों में हैं. इस मामले में पिछले कई सालों तक इनकम टैक्स के द्वारा कई नोटिस रनिंदर सिंह को भेजे गए थे. इसी मामले में इनकम टैक्स विभाग ने अपनी कई रिपोर्ट केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी (ED ) के साथ साझा किया. जिसमें इनकम टैक्स ने साल 2019 -20 को पुनः तैयार किए गए असेसमेंट आर्डर की जानकारी को भी ईडी के साथ साझा किया. उसके आधार पर ही ईडी ने फेमा कानून के उल्लंघन का मामला दर्ज कर इस मामले की तफ्तीश शुरू की है.

इनकम टैक्स के वरिष्ठ सूत्रों के मुताबिक यूएई (UAE ), ब्रिटेन (Briten) में रनिंदर सिंह की संपत्तियों के बारे में इनकम टैक्स विभाग को काफी जानकारी मिल चुकी है. जिसकी जानकारी ईडी से साझा किया जा चुका है. मंगलवार को इसी मसले पर पूछताछ की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज