• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Water Logging: ईडीएमसी कमिश्नर ने अफसरों को दिए निर्देश, कहा-नहीं होनी चाहिए वाटर लॉगिंग, तुरंत दूर करें समस्या

Water Logging: ईडीएमसी कमिश्नर ने अफसरों को दिए निर्देश, कहा-नहीं होनी चाहिए वाटर लॉगिंग, तुरंत दूर करें समस्या

अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि ईडीएमसी के अधीनस्थ क्षेत्र में जहां पर भी वाटर लॉगिंग की समस्या आती है उसको तुरंत दूर किया जाए. (File Photo)

अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि ईडीएमसी के अधीनस्थ क्षेत्र में जहां पर भी वाटर लॉगिंग की समस्या आती है उसको तुरंत दूर किया जाए. (File Photo)

Delhi Water Logging: ईस्ट एमसीडी के इलाकों में होने वाली वाटर लॉगिंग पर निगमायुक्त विकास आनंद ने गंभीर रुख अख्तियार किया है. अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि अधीनस्थ क्षेत्र में जहां पर भी वाटर लॉगिंग की समस्या आती है उसको तुरंत दूर किया जाए. इस मामले में किसी प्रकार की भी कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

  • Share this:

    नई दिल्ली. पूर्वी दिल्ली नगर निगम (East Delhi Municipal Corporation) के अंतर्गत इलाकों में होने वाली वाटर लॉगिंग (Water Logging) पर निगमायुक्त विकास आनंद ने गंभीर रुख अख्तियार किया है. निगमायुक्त की ओर से अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि ईडीएमसी (EDMC) के अधीनस्थ क्षेत्र में जहां पर भी वाटर लॉगिंग की समस्या आती है उसको तुरंत दूर किया जाए. इस मामले में किसी प्रकार की भी कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

    निगमायुक्त ने बुधवार को बरसात के कारण पूर्वी निगम क्षेत्र में हुए जलभराव की स्थिति का जायजा लिया. निगमायुक्त ने स्वामी दयानंद अस्पताल (Swami Dayanand Hospital) में हुए जलभराव के संबंध में संबंधित अधिकारियों से जवाब तलब किया और वहां तुरंत प्रभाव से जल निकासी करने के बारे में दिशा निर्देश जारी किए.

    ये भी पढ़ें: MCD Election 2022: ट्राेमल मशीनों के सालाना किराये मामले पर BJP-AAP में टकराव, सरकार से ऑडिट कराने की तैयारी!

    बता दें कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम (East MCD) की 27 जुलाई को हुई साधारण सभा में विपक्ष द्वारा स्वामी दयानंद अस्पताल में जलभराव (Water Logging) की समस्या के बारे में जमकर हंगामा किया गया, जिसको गंभीरता से लेते हुए निगमायुक्त विकास आनंद द्वारा तुरंत कार्रवाई के आदेश जारी किए गए.

    प्रमुख अभियंता विजय प्रकाश ने निगमायुक्त को बताया कि स्वामी दयानंद अस्पताल (Swami Dayanand Hospital) के प्रसूति वार्ड के आस-पास, प्रशासनिक विभाग के सामने तथा अन्य स्थानों पर जहां पानी भरा था वहां निगमायुक्त के आदेशानुसार कार्रवाई करते हुए पानी का निकास कर दिया गया है और ऐसी व्यवस्था कर दी गयी है कि भविष्य में यहाँ जलभराव ना हो सकें.

    ये भी पढ़ें: BJP का केजरीवाल सरकार पर हमला, कहा-जल बोर्ड में 57,000 करोड पहुंचा घाटा, CVC से जांच कराने की मांग

    इसके अलावा उन्होंने निगमायुक्त विकास आनंद को बताया कि आई.पी एक्सटेंशन में डीसीपी ऑफिस के पास सड़क के दोनों तरफ पानी भरा है. उन्होंने बताया कि यह सड़क डीडीए (Delhi Development Authority) के क्षेत्राधिकार में आती है. विजय प्रकाश ने जानकारी देते हुए बताया कि इसके बारे में डीडीए के अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया. इस संबंध में निगमायुक्त के आदेशानुसार डीडीए को चालान जारी किया गया है.

    निगमायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम (EDMC) क्षेत्र में जलभराव की समस्या को गंभीरता से लें और यदि किसी कारण समस्या उत्पन्न हो गई है तो तुरंत प्रभाव से कार्रवाई करते हुए जल निकासी का उचित प्रबंध करें. उन्होंने कहा कि इस संबंध में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन