Home /News /delhi-ncr /

effect of extreme heat demand for electricity in northern region was a record 77 thousand mw condition of delhi9

बेतहाशा गर्मी का असर: उत्तर भारत में बिजली की मांग रिकॉर्ड 77 हजार मेगावॉट हुई, जानें दिल्ली का हाल

दिल्ली में गर्मी ने पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. यही वजह है कि यहां पर बिजली की डिमांड साढ़े 7 हजार  मेगावाट को पार कर गई.

दिल्ली में गर्मी ने पुराने रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. यही वजह है कि यहां पर बिजली की डिमांड साढ़े 7 हजार मेगावाट को पार कर गई.

Electricity Demand in Delhi: राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली जैसे राज्यों में अधिकतम मांग क्रमश: 15,850 मेगावॉट, 14,002 मेगावॉट, 12,540 मेगावॉट और 7,602 मेगावॉट रही. पंजाब और दिल्ली में बिजली खपत रिकॉर्ड क्रमश: 32.64 करोड़ यूनिट और 15.35 करोड़ यूनिट रही. मंगलवार दोपहर को राजधानी में बिजली की अधिकतम मांग 7,601 मेगावॉट के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गई.

अधिक पढ़ें ...

नयी दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली समेत उत्तरी भारत में बढ़ती गर्मी और उमस ने लोगों को बेचैन कर दिया है. ऐसे में बिजली की डिमांड बढ़ गई है और लगातार बढ़ रही है. बिजली मंत्रालय के मुताबिक, अधिकतम मांग मंगलवार को रिकॉर्ड 77,091 मेगावॉट पहुंच गई. मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘मंगलवार 28 जून को उत्तरी क्षेत्र में 173.7 करोड़ यूनिट के रिकॉर्ड ऊर्जा खपत के साथ बिजली की अधिकतम मांग 77,091 मेगावॉट पहुंच गई.

राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली जैसे राज्यों में अधिकतम मांग क्रमश: 15,850 मेगावॉट, 14,002 मेगावॉट, 12,540 मेगावॉट और 7,602 मेगावॉट रही. बयान के अनुसार पंजाब और दिल्ली में बिजली खपत रिकॉर्ड क्रमश: 32.64 करोड़ यूनिट और 15.35 करोड़ यूनिट रही.

राजधानी वासी गर्मी से बचने के लिए तरह-तरह के उपाय कर रहे हैं, ताकि उन्हें आराम मिल सके. लेकिन गर्मी से राहत न मिलने की वजह से बिजली की डिमांड इस साल पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ रही है. मंगलवार दोपहर को राजधानी में बिजली की अधिकतम मांग 7,601 मेगावॉट के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गई.

2019 में 7,409 मेगावॉट बिजली की मांग
राज्य भार प्रेषण केंद्र (एसएलडीसी) के अनुसार, दिल्ली में दोपहर तीन बजकर 21 मिनट पर बिजली की अधिकतम मांग 7,601 मेगावॉट थी. दो जुलाई, 2019 को दिल्ली में 7,409 मेगावॉट बिजली की अधिकतम मांग दर्ज की गई थी. 9 जून से पहले दिल्ली में बिजली की अधिकतम मांग इस महीने कभी भी 7,000 मेगावॉट के पार नहीं पंहुची थी. इस साल जून में बिजली की मांग 9 बार 7,000 मेगावॉट को पार कर चुकी है.

डिमांड बढ़ने की प्रमुख वजह गर्मी 
अधिकारियों ने बताया कि बिजली की मांग बढ़ने का प्रमुख कारण तापमान में बढोत्तरी है. एक अनुमान के मुताबिक गर्मियों में दिल्ली में बिजली की लगभग 50 प्रतिशत मांग एयर-कंडीशनर, कूलर और पंखे के कारण होती है. इस बीच, टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रिब्यूशन ने एक बयान में कहा कि उसने मंगलवार दोपहर को उत्तर और उत्तर-पश्चिमी दिल्ली में 2,173 मेगावॉट बिजली की उच्चतम मांग को बिना किसी बाधा के पूरा किया है. यह इस मौसम में बिजली की सबसे अधिकतम मांग है.

Tags: Delhi news, Delhi news update, Delhi Weather Update

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर