मुस्लिम युवक गुरुद्वारा और हनुमान मंदिर में जाकर मना रहे Eid, कोरोना संकट में घोल रहे इंसानियत की मिठास
Delhi-Ncr News in Hindi

मुस्लिम युवक गुरुद्वारा और हनुमान मंदिर में जाकर मना रहे Eid, कोरोना संकट में घोल रहे इंसानियत की मिठास
ईद में लोगों को भोजन का पैकेट देते युवक.

कोरोना वायरस (Corona Virus) की महामारी के बीच दिल्ली (Delhi) में इंसनियत की एक नमूना देखने को मिला है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
दिल्ली. कोरोना वायरस (Corona Virus) की महामारी के बीच दिल्ली (Delhi) में इंसनियत की एक नमूना देखने को मिला है. मुस्लिम (Muslim) युवक ईद के मौके पर गुरुद्वारा, हनुमान मंदिर, चर्च व अन्य स्थानों पर जाकर त्यौहार की खुशियां बांट रहे हैं. इसके तहत जरूरतमंदों को सेवाइयां और भोजन का पैकेट दिया जा रहा है. न सिर्फ आज के दिन बल्कि पूरे रमजान महीने में इन मुस्लिम युवकों द्वारा दिल्ली में फंसे कई प्रवासी मजदूरों और जरूरतमंदों को भोजन कराने का दावा किया जा रहा है. ईद के मौके पर आज दिनभर घूम-घूम कर जरूरतमंदों को भोजन कराने की योजना युवकों ने बनाई है.

दावा किया जा रहा है कि इरशाद, अब्दुल्ला और उनके समूह के लोगों ने लॉकडाउन के पहले सप्ताह से ही लगभग 200 परिवारों को राशन किट वितरित कर रहे हैं. इसके अलावा, वे राजमार्ग पर हर दिन लगभग 300 लोगों को भोजन, पानी, फल और जूस परोस रहे हैं. ईद के मौके पर उन्होंने 'अबकी ईद सबकी ईद' अभियान शुरू किया है, जिसके तहत आज दिल्ली के अलग अलग स्थानों पर वे प्रवासी श्रमिकों, ग्रामीणों व अन्य जरूरतमंदों को सेवई और भोजन के पैकेट देंगे. रमजान के दौरान अधिक से अधिक नोएडा, और मथुरा रोड पर भोजन कराने का दावा इस समूह ने किया है.

एक नई चुनौती
समूह के अब्दुला बताते हैं कि इस बार रोजाकरना चुनौतीपूर्ण और आशीर्वाद दोनों था. रमज़ान के महीने के अंत को ईद के त्योहार के उत्सव के रूप में चिह्नित किया जाता है. ईद हमें करुणा, मानवता, भाईचारा, प्रेम और बलिदान सिखाती है. इसके तहत ही हमारे समूह ने बंगला साहिब गुरुद्वारा, सेक्रेड कैथेड्रल चर्च, हनुमान मंदिर और जुडाह हयम सिनेगॉग में जरूरतमंदों को भोजन देने का निर्णय लिया. इसके तहत सुबह से अलग स्थानों पर जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है. समूह ने अबकी ईद सबकी ईद की पहल शुरू की है. इस​के तहत स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मदद से लोगों को भोजन कराने की कोशिश की जा रही है. इसके तहत समूह ईद की सेवइया और भोजन के पैकेट के साथ 500 प्रवासी मजदूरों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है.



ये भी पढ़ें:


Lockdown: दूल्हा नहीं जुटा पाया साहस तो बारात लेकर ससुराल पहुंची दुल्हन, फिर..

राजस्थान में हवाई यात्रा आज से शुरू, इन बातों का रखना होगा ख्याल, एक क्लिक में पढ़ें- सरकार की गाइडलाइन
First published: May 25, 2020, 12:40 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading