बड़ी खबर: दिल्‍ली में दो हफ्ते में 8 अस्‍पतालों में लगे ऑक्‍सीजन प्‍लांट, 24 अप्रैल तक थी इतनी संख्‍या

दिल्‍ली में 24 अप्रैल तक सिर्फ एक ऑक्‍सीजन प्‍लांट था.

दिल्‍ली में 24 अप्रैल तक सिर्फ एक ऑक्‍सीजन प्‍लांट था.

Oxygen Crisis in Delhi:दिल्‍ली में ऑक्‍सीजन संकट के बीच बड़ी खबर सामने आई है. दरअसल, दिल्‍ली में बीते दो हफ्ते में 8 ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगाने का काम पूरा किया है. इसके साथ राजधानी के 9 अस्‍पतालों के पास अपने ऑक्‍सीजन प्‍लांट हो गए हैं.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. देश की राजधानी दिल्‍ली में ऑक्‍सीजन संकट (Oxygen Crisis in Delhi) को लेकर अरविंद केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal government) और केंद्र सरकार के बीच लगातार खींचतान चल रही है. इस बीच एक अच्‍छी खबर सामने आई है. दरअसल, दिल्‍ली में पिछले दो हफ्ते में 8 ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगाने का काम पूरा किया गया है. जबकि 24 अप्रैल तक सिर्फ एक ऑक्‍सीजन प्‍लांट था.

इसके साथ अब दिल्‍ली में 9 अस्‍पतालों के पास अपना ऑक्‍सीजन प्‍लांट हो गया है, जो कि कोरोना के संकट के बीच बड़ी राहत है. वैसे दिल्‍ली सरकार लगातार 700 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन की जरूरत बता रही है. जबकि सुप्रीम कोर्ट भी केंद्र सरकार को जरूरत के मुताबिक ऑक्‍सीजन देने का आदेश दे चुका है.

वहीं, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को कहा था कि दिल्ली को कल केवल 487 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिली है, जो कि बहुत कम है. हमें वर्तमान में लगभग 700 मीट्रिक टन की जरूरत है. हम माननीय सुप्रीम कोर्ट के दिल्ली को प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के निर्देशानुसार, केंद्र सरकार से उतनी ऑक्सीजन की आपूर्ति करने का आग्रह करते हैं.

दिल्‍ली को सिर्फ एक दिन मिली पूरी ऑक्‍सीजन
बता दें कि पिछले हफ्ते दिल्‍ली को मंगलवार को 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिली थी. केंद्र से मिली मदद के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक खत के जरिए केंद्र और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार भी जताया था. साथ ही दिल्ली को निरंतर ऑक्सीजन सप्लाई करते रहने की मांग भी रखी थी. सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखे खत में कहा, 'मैं कल दिल्ली के लोगों की ओर से 730 मिट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए आभार व्यक्त करता हूं. मेरा आपसे अनुरोध है कि आप दिल्ली को रोजाना उतनी ही मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति करें.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज