Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहनों की जबरदस्त मांग, तीन महीने में इतने हजार गाड़ियों का हुआ रजिस्ट्रेशन

दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहनों की जबरदस्त मांग, तीन महीने में इतने हजार गाड़ियों का हुआ रजिस्ट्रेशन

दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन नीति अगस्त 2020 में आई थी और तभी से इलेक्ट्रिक वाहनों का पंजीकरण शुरू हुआ. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन नीति अगस्त 2020 में आई थी और तभी से इलेक्ट्रिक वाहनों का पंजीकरण शुरू हुआ. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या धीरे- धीरे बढ़ती जा रही है. इसका संकेत खुद दिल्ली के परिवहन मंत्री ने दिया है. परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Transport Minister Kailash Gehlot) ने कहा है कि हमें अपनी इलेक्ट्रिक वाहन नीति के अच्छे नतीजे देखने को मिल रहे हैं और ऐसे वाहनों की अपनाने वालों की संख्या बढ़ रही है. दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन नीति अगस्त 2020 में आई थी और तभी से इलेक्ट्रिक वाहनों का पंजीकरण शुरू हुआ.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में लोग बिजली से चलने वाले वाहनों को तेजी से अपनाते जा रहे हैं. हाल के महीनों में सीएनजी और हाइब्रिड ईंधन के वाहनों की तुलना में इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) के पंजीकरण में इजाफा हुआ है. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, जुलाई से सितंबर के महीने के बीच, दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग (Transport Department) में पंजीकृत कुल वाहनों में से सात प्रतिशत इलेक्ट्रिक वाहन थे जबकि सीएनजी वाहन छह प्रतिशत थे. इस अवधि में डेढ़ लाख से ज्यादा वाहन पंजीकृत हुए जिसमें 7,869 इलेक्ट्रिक वाहन, 6857 सीएनजी वाहन, 7257 सीएनजी और पेट्रोल से चलने वाले वाहन और पेट्रोल तथा डीजल से चलने वाले 93,091 वाहन थे.

    दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा, “हमें अपनी इलेक्ट्रिक वाहन नीति के अच्छे नतीजे देखने को मिल रहे हैं और ऐसे वाहनों की अपनाने वालों की संख्या बढ़ रही है. हम दिल्ली को देश की इलेक्ट्रिक वाहन राजधानी बनाना चाहते हैं जो कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का सपना है.” दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन नीति अगस्त 2020 में आई थी और तभी से इलेक्ट्रिक वाहनों का पंजीकरण शुरू हुआ.

    यातायात विभाग की वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं
    वहीं, पिछले हफ्ते दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gehlot) ने बताया था कि दिल्ली सरकार ने महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण के साथ ई-ऑटो परमिट के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की शुरुआत की. उन्होंने बताया था कि पहले चरण में, महिला आवेदकों के लिए 1,406 समेत 4,261 ई-ऑटो परमिट जारी किए जाएंगे. इसके लिए आवेदन करने के पात्र लोग दिल्ली सरकार (Delhi Government) के यातायात विभाग की वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं.

    अंतिम तारीख एक नवंबर है
    एक ट्वीट में गहलोत ने कहा था कि ई-ऑटो परमिट दिल्ली को इलेक्ट्रिक वाहन राजधानी बनाने की दिशा में अरविंद केजरीवाल सरकार का प्रभावी कदम है. दिल्ली सरकार शहर को प्रदूषण मुक्त, विश्वस्तरीय यातयात सेवा देने के लिए प्रतिबद्ध है. दिल्ली सरकार इलेक्ट्रॉनिक व्हिकल पालिसी के तहत ई-ऑटो खरीदने पर 30,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करती है. इसके लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख एक नवंबर है.

    (इनपुट- भाषा)

    Tags: Delhi news, Delhi news today, Delhi news update, Electric vehicle

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर