पढ़ें, हर साल एक लाख से ज़्यादा भारतीय नागरिकता छोड़ किन देशों में जा रहे हैं
Delhi-Ncr News in Hindi

पढ़ें, हर साल एक लाख से ज़्यादा भारतीय नागरिकता छोड़ किन देशों में जा रहे हैं
5 वर्ष में करीब 6 लाख भारतीयों ने देश की नागरिकता छोड़ी. File Photo

भारत की नागरिकता को छोड़ लोग बांग्लादेश (Bangladesh) और नेपाल जैसे देशों की नागरिकता ले रहे हैं. सबसे ज़्यादा भारतीय नागरिकता छोड़ ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका (America) जाकर बस रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 13, 2020, 12:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. एक तरफ देश में नागरिकता संशोधन कानून (CAA), नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन (NRC) और नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (NPR) को लेकर चर्चा हो रही है, वहीं दूसरी ओर हर साल एक लाख से ज़्यादा लोग भारत (India) की नागरिकता छोड़ रहे हैं. खास बात यह है कि भारत की नागरिकता को छोड़ ये लोग बांग्लादेश (Bangladesh) और नेपाल जैसे देशों की नागरिकता ले रहे हैं. सबसे ज़्यादा भारतीय नागरिकता छोड़कर ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका (America) जाकर बस रहे हैं.

5 साल में 6 लाख भारतीयों ने छोड़ी नागरिकता
हाल ही में विदेश मंत्रालय ने एक रिपोर्ट जारी की है. यह रिपोर्ट लोकसभा में रखी गई है. अगर रिपोर्ट की मानें तो 2015 से अक्टूबर 2019 तक करीब 5.84 लाख भारतीय अपने देश की नागरिकता छोड़ दूसरे देशों में बस चुके हैं. सबसे ज़्यादा 132445 भारतीयों ने 2016 में भारत की नागरिकता छोड़ी थी. लेकिन किसी भी वर्ष देश छोड़कर जाने वालों की संख्या एक लाख से कम नहीं है.

भारत छोड़कर 151 नेपाली तो 19 बने बांग्लादेशी नागरिक
बीते 5 साल में जितने भारतीयों ने नागरिकता छोड़ी है, उसमे से 155 ने नेपाल की तो 19 ने बांग्लादेश की नागरिकता ली है. श्रीलंका जाने वालों की संख्या भी 108 है. वहीं हर साल ऑस्ट्रेलिया की नागरिकता लेने वालों में करीब 20 हजार लोग हैं.



immigrat


अमेरिका जाकर बसने वालों की संख्या भी हर साल करीब 40 हजार है. काफी लोग इटली के रोम और मिलान भी गए हैं. वहीं खाड़ी के भी कई देशों में भारतीयों ने नागरिकता ली है. दुनिया के जिन शहरों में जाकर भारतीय बसे हैं उनकी संख्या भी 125 से अधिक है.

नागरिकता छोड़ने पर कारण भी बताना होगा

immigrat


जानकारों की मानें तो ज्यादातर लोग रोजगार और कारोबार के चलते नागरिकता छोड़ते हैं. कुछ ऐसे भी होते हैं जो शिक्षा के लिए बाहरी देश में जाते हैं और उसके बाद उसी देश में बस जाते हैं. लेकिन सरकार ने अब एक और नया नियम देश की नागरिकता छोड़ने वालों के लिए लागू कर दिया है. नया नियम यह है कि अब नागरिकता छोड़ने से पहले उसका कारण भी बताना होगा.

ये भी पढ़ें- 

NPR के 'D' कॉलम को गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में किया डिकोड, दिया यह जवाब

CAA हिंसा: पोस्टर हटाएगी पर यह काम नहीं करेगी यूपी सरकार

खुशखबरी! जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद प्राइवेट कंपनियों ने दिए 13 हजार करोड़ निवेश के प्रस्ताव
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading