• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • दिल्ली में 1 अक्टूबर से शराब और बीयर की कमी न हो इसके लिए एक्ससाइज विभाग ने उठाया ये कदम

दिल्ली में 1 अक्टूबर से शराब और बीयर की कमी न हो इसके लिए एक्ससाइज विभाग ने उठाया ये कदम

दिल्ली में एक अक्टूबर से 16 नवंबर तक 372 शराब की दुकानों पर ही शराब बेचने की इजाजत होगी.

दिल्ली में एक अक्टूबर से 16 नवंबर तक 372 शराब की दुकानों पर ही शराब बेचने की इजाजत होगी.

Liquor News: दिल्ली में 1 अक्टूबर से शराब की दुकानों (Liquor Shops) पर शराब की किल्लत न हो इसके लिए एक्साइज डिपार्टमेंट (Excise Department) ने बैकअप प्लान अभी से ही तैयार करने में जुट गई है. बता दें कि दिल्ली में एक अक्टूबर से 16 नवंबर तक 372 शराब की दुकानों पर ही शराब बेचने की इजाजत होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. दिल्ली में 1 अक्टूबर से शराब की दुकानों (Liquor Shops) पर शराब की किल्लत न हो इसके लिए एक्साइज डिपार्टमेंट (Excise Department) ने बैकअप प्लान अभी से ही तैयार करने में जुट गई है. बता दें कि दिल्ली में एक अक्टूबर से 16 नवंबर तक 372 शराब की दुकानों पर ही शराब बेचने की इजाजत होगी. इसलिए शराब के शौकीनों को शराब पीने में परेशानी न हो इसके लिए एक्साइज विभाग ने सभी कंपनी के डिस्ट्रिब्यूटर्स से शराब और बीयर के स्टॉक का लेखा-जोखा मांगा है. दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति के तहत एक अक्टूबर से 260 प्राइवेट शराब की दुकानों को बंद कर दिया जाएगा. दिल्ली में अब शराब की नई 849 दुकानें 17 नवंबर से अपनी सेवाएं देना शुरू कर देंगी.

    बता दें कि दिल्ली में एक अक्टूबर से शराब की प्राइवेट 260 दुकानें बंदो हो जाएंगी. सिर्फ 372 सरकारी शराब की दुकानों पर ही ग्राहक शराब और बीयर खरीद सकेंगे. इस दौरान शराब के खरीददारों को किसी तरह का दिक्कत न हो इसके लिए अभी से ही कवायद शुरू हो गई है.

    Delhi New Excise Policy,Manish Sisodia, Delhi Government, Delhi News, Liquor Shops, मनीष सिसोदिया, दिल्‍ली सरकार, दिल्‍ली न्‍यूज़, शराब दुकानें

    दिल्‍ली में नई आबकारी नीति 17 नवंबर से लागू होगी.

    शराब के स्टॉक पर ऐसे नजर रख रही है एक्साइज विभाग
    एक्साइज विभाग ने सभी होलसेलरों से कहा है कि वे अगले चार महीने का स्टॉक वैसे ही मेंटेन करत रहें, जैसे अभी कर रहे हैं. शराब के स्टॉक में किसी भी तरह की कमी न करें. एक्साइज विभाग यह सुनिश्चित करने में लगी है कि डिमांड और सप्लाई में कितना गैप रहा. क्या डिस्ट्रिब्यूटर्स के पास शराब और बीयर के पर्याप्त स्टॉक है भी या नहीं?

    शराब के स्टॉक को ऐसे मेंटेन रखा जाएगा
    एक्साइज विभाग का मानना है कि स्टॉक मेंटेन करना सबसे जरूरी है. अगर शराब की कमी पड़ गई तो दुकानों पर शराब मिलेगी ही नहीं. इसलिए विभाग कोशिश कर रही है किसी भी कीमत में होलसेलर के पास शराब के स्टॉक में कमी न रहे.

    ये भी पढ़ें: Delhi-NCR के 260 ठेके 1 अक्टूबर से होंगे बंद, अब यहां से खरीद सकेंगे शराब

    एक्ससाइज विभाग एक अक्टूबर से 47 दिनों के लिए प्लान तो तैयार करने में तो लग गई है, लेकिन यह कवायद कितना असरदार होगा वह अगले कुछ दिनो में नजर आएगा. अभी तक शराब सप्लाई कैसे किया जाए, इसका कोई प्लान तैयार नहीं किया गया था. ऐसे में माना जा रहा है कि शराब माफिया इस मौके को भुनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगा. इधर, दिल्ली हाई कोर्ट ने खुदरा शराब बेचनेवालों की दो याचिकाओं पर दिल्ली सरकार से जवाब मांगा है. याचिका में यह मांग की गई है कि दिल्ली की नई आबकारी नीति के तहत अन्य श्रेणियों में भी 16 नवंबर तक बढ़ाने की मांग की है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज