लाइव टीवी

Exclusive: JNU हिंसा से एक दिन पहले भी छात्रों के गुटों में हुई थी झड़प, देखें Video

News18Hindi
Updated: January 15, 2020, 12:40 PM IST
Exclusive: JNU हिंसा से एक दिन पहले भी छात्रों के गुटों में हुई थी झड़प, देखें Video
वीडियो में मारपीट करते छात्र

इस वीडियो में कुछ छात्रों को आपस में मारपीट और धक्का-मुक्की करते हुए देखा जा सकता है. कहा जा रहा है कि सर्वर रूम (JNU Server Room) के बाहर छात्र के दो गुटों के बीच ये मारपीट हुई थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2020, 12:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में बीते पांच जनवरी को हुई हिंसा में नया मोड़ आ गया है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच एसआईटी को जेएनयू हिंसा (JNU Violence) से संबंधित नया वीडियो (Video) मिला है. बताया जा रहा है कि ये वीडियो जेएनयू हिंसा से एक दिन पहले यानी चार जनवरी का है. इस वीडियो में कुछ छात्रों को आपस में मारपीट और धक्का-मुक्की करते हुए देखा जा सकता है. कहा जा रहा है कि सर्वर रूम (JNU Server Room) के बाहर छात्र के दो गुटों के बीच ये मारपीट हुई थी.

सूत्रों के मुताबिक, कथित तौर पर लेफ्ट विंग के छात्र सर्वर रूम को बंद करवाना चाहते थे, जबकि राइट विंग के स्टूडेंट्स उसे खोलवाना चाह रहे थे. इसी बात को लेकर दोनों विंग के छात्रों के बीच लड़ाई हो गई. वीडियो में जेएनयू के वाइस प्रेसीडेंट साकेत मून भी दिखाई दे रहे हैं. वीडियो में कुछ छात्रों को दो छात्राओं के साथ मारपीट करते हुए देखा जा सकता है. वहीं, वीडियो में कुछ महिला गार्ड बीच-बचाव कर छात्रों की लड़ाई को शांत कराती दिख रही हैं.



क्राइम बांच पूछताछ करेगीकहा जा रहा है कि चार जनवरी को सर्वर रूम के बाहर रजिस्ट्रेशन चल रहा था. तभी कुछ छात्रों ने वहां पहुंचकर रजिस्ट्रेशन का विरोध किया. इसके बाद छात्र के दो गुटों के बीच लड़ाई हो गई. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच का कहना है कि वीडियो में दिख रहे सभी छात्रों से पूछताछ की जाएगी. उन्हें नोटिस भी दिया जा सकता है. साथ ही महिला गार्ड का बयान भी लिया जाएगा.

तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया था
बता दें कि चार जनवरी को जेएनयू प्रशासन ने छात्रावास में तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया था. प्रशासन ने कहा था कि शुल्क (फीस) बढ़ाए जाने के खिलाफ आंदोलन कर रहे छात्रों ने सर्वर रूम में तोड़फोड़ की है. साथ ही तकनीकी स्टाफ को डराने-धमकाने का भी काम किया है. इससे सेमेस्टर के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया बाधित हुई थी. वहीं जेएनयू छात्र संघ ने कहा था कि प्रशासन ने छात्रों पर हमला करने के लिए नकाबपोश सुरक्षागार्डों का इस्तेमाल किया. छात्र संघ ने आरोप लगाया, 'वो शर्मनाक ढंग से नकाब पहने हुए थे. जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष को एक सुरक्षागार्ड ने खुलेआम थप्पड़ मारा.'

 

ये भी पढ़ें- 

'आप' पर लगा टिकट बेचने का आरोप, नाराज MLA ने दिया इस्तीफा

JDU के दही-चूड़ा भोज के साथ ये हैं राजधानी पटना के महत्वपूर्ण कार्यक्रम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 12:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर