Home /News /delhi-ncr /

पीएम मोदी की सुरक्षा मामलाः कैबिनेट मीटिंग का फर्जी वीडियो वायरल, दिल्ली पुलिस करेगी जांच

पीएम मोदी की सुरक्षा मामलाः कैबिनेट मीटिंग का फर्जी वीडियो वायरल, दिल्ली पुलिस करेगी जांच

Delhi News: पीएम मोदी की सुरक्षा में लापरवाही की घटना के बाद फर्जी वायरल वीडियो की स्पेशल सेल ने शुरू की पड़ताल.

Delhi News: पीएम मोदी की सुरक्षा में लापरवाही की घटना के बाद फर्जी वायरल वीडियो की स्पेशल सेल ने शुरू की पड़ताल.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिरोजपुर दौरे के दौरान सुरक्षा व्यवस्था में लापरवाही मामले से जोड़कर सोशल मीडिया पर वायरल किए जा रहे फर्जी वीडियो की दिल्ली पुलिस स्पेशल करेगा जांच. दिल्ली पुलिस ने कहा- सीडीएस जनरल बिपिन रावत की मौत के बाद हुई कैबिनेट मीटिंग के वीडियो में छेड़छाड़ कर एक समुदाय की भावनाएं भड़काने की हो रही साजिश.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में लापरवाही के बाद सोशल मीडिया पर एक भ्रामक वीडियो लगातार वायरल किया जा रहा है. दिल्ली पुलिस ने आज इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि वह इस मामले की गहनता से जांच करेगी. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को इस जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की विशेष यूनिट IFSO के डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ने इस बाबत बयान जारी किया है.

डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ने कहा कि पीएम मोदी की सुरक्षा में लापरवाही को लेकर 5 जनवरी को जो घटना पंजाब में हुई, उसके बाद कुछ असामाजिक तत्व असत्य और भ्रामक खबर को फर्जी वीडियो के रूप में सोशल मीडिया पर फैला रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘एक वायरल तस्वीर के माध्यम से सोशल मीडिया पर ये दिखाने और बताने की कोशिश की जा रही थी कि केंद्र सरकार द्वारा एक बैठक के दौरान एन्टी सिख धर्म एक बड़ा फैसला लेने जा रही है. यह वायरल तस्वीर दरअसल 9 दिसंबर की है, जब पूर्व CDS दिवंगत जनरल विपिन रावत के निधन के बाद कैबिनेट कमिटी की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई थी. उसी बैठक की तस्वीर को गलत तरीके से वायरल करके एक विशेष समुदाय को जानबूझकर भड़काने का प्रयास किया गया.

डीसीपी मल्होत्रा ने कहा कि इस असत्य खबर को कुछ ट्विटर हैंडल से जान-बूझकर शेयर किया गया. इस तस्वीर को वायरल करने का मामला सामने आने के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इसकी तफ़्तीश शुरू कर दी है. इस वीडियो के बारे में डीसीपी ने बताया कि वह वीडियो/तस्वीर पूरे तौर पर गलत है. यह वीडियो अभी भी कई न्यूज़ चैनल, वेबसाइट और सोशल मीडिया प्लेटफार्म-पोर्टल पर मौजूद है. दिल्ली पुलिस ने इस फेक न्यूज घोषित किया है. केंद्र सरकार की संस्था पीआइबी (PIB) की फैक्ट चेक यूनिट ने भी इस खबर का खंडन किया है.

IFSO के डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ने कहा कि कई ट्विटर हैंडल के माध्यम से सामाजिक सद्भावना को बिगाड़ने की कोशिश की गई. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इस मसले पर कार्रवाई करते हुए आईपीसी की धारा – 153 A सहित कई अन्य धाराओं  के तहत मामला दर्ज किया है. इस तफ़्तीश के दौरान simrankaur0507 और  @eshalkaur1 नाम के ट्विटर हैंडल से जुड़ी जानकारी स्पेशल सेल को मिली है, जो एक धर्म विशेष के प्रति घृणा और सामाजिक सद्भावना को खराब करने की कोशिश कर रहे थे. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम इस मसले पर जल्द ही कुछ आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली है.

Tags: Cds bipin rawat death, Delhi news, Delhi Police Special Cell, Pm narendra modi

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर