लाइव टीवी

Fact Check में सामने आई दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रिटायरमेंट के वायरल Letter की सच्चाई!

अमित पांडेय | News18Hindi
Updated: January 14, 2020, 7:39 PM IST
Fact Check में सामने आई दिल्ली पुलिस कमिश्नर के रिटायरमेंट के वायरल Letter की सच्चाई!
दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक. (फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक (Amulya Patnaik) के रिटायरमेंट के संदर्भ में एक लेटर सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी वायरल हुआ है. जिसकी सच्चाई की जांच News 18 ने की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 14, 2020, 7:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक (Amulya Patnaik) के रिटायरमेंट के संदर्भ में एक लेटर सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी वायरल हुआ है. गृह मंत्रालय (Home Ministry) के मुताबिक, ये चिट्ठी फर्जी है और रिटायरमेंट के संदर्भ में सरकार की ओर से कोई आदेश जारी नहीं हुआ है. इस वायरल चिट्ठी में लेटर नंबर सहित अन्य विवरण भी देखा जा सकता है. न्यूज 18 ने जब इस मामले की पड़ताल की तो इसकी सच्चाई सामने आई. न्यूज 18 के संवाददाता को गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि इस तरह की कोई भी चिट्ठी उनके विभाग ने जारी नहीं की है.

जानिए क्या लिखा है इस चिट्ठी में
इस वायरल चिट्ठी को दिल्ली सचिवालय के गृह विभाग से जारी होने का दावा किया जा रहा है. जिसमें दिल्ली के वर्तमान पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक के इस साल 31 जनवरी को सेवानिवृत होने की बात लिखी है. साथ ही यह भी लिखा है कि इससे संबंधित अनुमति दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर से ली जा चुकी है.

दिल्ली पुलिस, अमूल्य पटनायक, वायरल लेटर, फैक्ट चेक, रिटायर्मेंट, Delhi Police, Amulya Patnaik, Viral Letter, Fact Check, Retirement
सोशल मीडिया पर वायरल हुआ फर्जी लेटर.


सेवा विस्तार की थी उम्मीद
दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक इस साल 31 जनवरी को रिटायर्ड होने वाले हैं. माना जा रहा था कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के कारण उन्हें सेवा विस्तार मिल सकता है.

2017 में बने थे दिल्ली के पुलिस कमिश्नरअमूल्य पटनायक 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं. उन्होंने दिल्ली पुलिस में बतौर स्पेशल कमिश्नर (एडमिनिस्ट्रेशन) काम किया है. पटनायक ने दिल्ली के अलावा पुडुचेरी में एसएसपी (कानून- व्यवस्था) के अलावा एसपीजी में आईजी की भी जिम्मेदारी निभाई है. मूल रूप से ओडिसा के रहने वाले पटनायक के इस कार्यकाल के दौरान जेएनयू और जामिया में हुई हिंसा का विवाद सुर्खियों में छाया रहा.

ये भी पढ़ें: 

JNU हिंसा: सुचेता और प्रिय रंजन ने दर्ज कराए बयान, CBI ने उनसे कही ये बात

CAA: चंद्रशेखर मामले में कोर्ट ने पुलिस से कहा- क्या जामा मस्जिद पाक में है?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 6:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर