क्रेडिट कार्ड सर्विस प्रोवाइडर के नाम पर चला रहे थे फर्जी कॉल सेंटर, ठगी के गोरखधंधे का भंडाफोड़ 

रोहिणी जिला पुलिस साइबर सेल ने एक फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है.

Delhi Crime News: दिल्ली पुलिस को पूछताछ के दौरान पता चला है कि आरोपी व्यक्ति स्वयं को क्रेडिट कार्ड सेवा प्रदाता के रूप में पेश करके आकर्षक ऑफर, उपहार कार्ड, वीआईपी मनी सेविंग कार्ड, स्वास्थ्य देखभाल योजना आदि प्रदान करने का झूठा आश्वासन देकर निर्दोष व्यक्तियों को ठगते थे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली के रोहिणी जिला पुलिस साइबर सेल (Cyber Cell) ने एक फर्जी कॉल सेंटर (Fake Call Centre) का भंडाफोड़ किया है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने उनके पास से 4 डायलर फोन, 1 लैपटॉप और ट्रांसक्रिप्शन पेपर बरामद किये हैं.

    रोहिणी जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तायल ने बताया कि 14 जून की रात में रोहिणी जिले के साइबर सेल के एसआई आनंद सिंह को रोहिणी के सेक्टर-16 रोहिणी में चल रहे फर्जी कॉल सेंटर के संबंध में गुप्त सूचना मिली थी.

    ये भी पढ़ें : सदर बाजार मर्डर केस: पैसों के लेनदेन विवाद में की थी हत्या, आरोपी वांछित अपराधी गिरफ्तार

    इस सूचना के मिलते ही एसआई आनंद सिंह, सुनील कुमार, पीएसआई प्रशांत, महिला पीएसआई शिप्रा और महिला कांस्टेबल नीतू की टीम ने उक्त पते पर तुरंत छापा मारा, जहां एक व्यक्ति राहुल राठौर (कॉल सेंटर के प्रमुख) (30) और चार महिला सहायक  मौजूद थीं. जब उनसे कॉल सेंटर चलाने के लिए वैध अनुमति/अधिकृत प्रमाण-पत्र मांगा गया, तो वह कोई वैध दस्तावेज पेश नहीं कर पाये.

    ये भी पढ़ें : Lockdown में मोबाइल शॉप खोलकर चोरी करता था सेल्समैन, 206 मोबाइल फोन, दो लैपटॉप के साथ क‍िया गिरफ्तार

    इसके बाद केएनके मार्ग में मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई. पुलिस पूछताछ के दौरान, पता चला कि आरोपी व्यक्ति स्वयं को क्रेडिट कार्ड सेवा प्रदाता के रूप में पेश करके आकर्षक ऑफर, उपहार कार्ड, वीआईपी मनी सेविंग कार्ड, स्वास्थ्य देखभाल योजना आदि प्रदान करने का झूठा आश्वासन देकर निर्दोष व्यक्तियों को ठगते थे.

    ये भी पढ़ें : Delhi Crime: नकली पुलिस अधिकारी बनकर लोगों को ठगता था सुरक्षा गार्ड, अब चढ़ा पुलिस के हत्थे

    जांच के दौरान एक लेनोवो लैपटॉप, 6 मोबाइल फोन, ट्रांसक्रिप्शन पेपर, 6 डायलर फोन, 1 प्रिंटर, 1 राउटर, आरोपी व्यक्ति के बैंक दस्तावेज आदि जब्त कर आरोपी व्यक्तियों को मामले में गिरफ्तार किया गया है. अधिक पीड़ितों की पहचान करने और निर्दोष लोगों के क्रेडिट कार्ड और संपर्क नंबर प्रदान करने वाले सह-आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए आगे की जांच जारी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.