होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /दिल्लीः असली CBI ने नकली CBI अफसर किया गिरफ्तार, सियासी क्नेक्शन की जांच

दिल्लीः असली CBI ने नकली CBI अफसर किया गिरफ्तार, सियासी क्नेक्शन की जांच

केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने  दिल्ली स्थित तमिलनाडु भवन से एक फर्जी सीबीआई अफसर को गिरफ्तार किया है. . (सांकेतिक तस्‍वीर)

केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने दिल्ली स्थित तमिलनाडु भवन से एक फर्जी सीबीआई अफसर को गिरफ्तार किया है. . (सांकेतिक तस्‍वीर)

Fake CBI officer Arrested in Delhi: संभावना ये जताई जा रही है कि केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी द्वारा ग्रेनाइट व्यापार और मा ...अधिक पढ़ें

दिल्ली. केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने  दिल्ली स्थित तमिलनाडु भवन से एक फर्जी सीबीआई अफसर को गिरफ्तार किया है. आरोपी खुद को सीबीआई मुख्यालय में कार्यरत रहा सीनियर और सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी बताता था.

सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक, हिरासत में लिए गए नकली सीबीआई अधिकारी का  नाम कॉमिरेड्डी श्रीनिवास है, जो मूल रूप से आंध्र प्रदेश का है. आरोपी का आंध्रप्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु के राजनीतिक गलियारों और वहां की ब्यूरोक्रेसी में अच्छी पकड़ है. आरोपी इसका दुरुपयोग पिछले काफी समय से फर्जीवाड़े को अंजाम देने के लिए करता रहा है और लाखों-करोड़ों रुपये की डील की बात सामने आई है.

आरोपी की पड़ताल करने और तलाश में सीबीआई टीम रविवार रात दिल्ली स्थित तमिलनाडु भवन पहुंची थी. इस दौरान आरोपी तीसरे फ्लोर पर मोबाइल से किसी अन्य शख्स से बातचीत कर रहा था. तमाम कानूनी औपचारिकता को पूरा करने के बाद आरोपी और उसका मोबाइल फोन जब्त किया गया. जांच में पता चला कि आरोपी ने अपने मोबाइल फोन और व्हाट्सएप प्रोफाइल पिक्चर पर सीबीआई और आईपीएस का लोगो लगा रखा था. सीबीआई ने नकली आईपीएस और उसकी कार सहित कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों और सामान को जब्त किया है.

तेलंगाना के मंत्री के संपर्क में था ये नकली सीबीआई अधिकारी

सीबीआई के सूत्रों के मुताबिक, कॉमिरेड्डी श्रीनिवास पिछले काफी समय से कई बड़े राजनेताओं के संपर्क में था. ये अपने पावर के बारे में उन्हें बताता रहता था. साथ ही सीबीआई, ईडी  में कई वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बेहद करीबी रिश्ता होने का झूठा दम भरता था. सीबीआई सूत्र की अगर मानें तो आरोपी तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव की  टीआरएस सरकारके कई मंत्रियों और नेताओं के संपर्क में था और उनके लिए काम करता था. तेलंगाना सरकार में पिछड़ा वर्ग कल्याण ,खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री और करीमनगर विधानसभा इलाके से विधायक  गंगुला कमलाकर के साथ भी ये आरोपी कॉमिरेड्डी श्रीनिवास जुड़ा हुआ था.

संभावना ये जताई जा रही है कि केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी द्वारा ग्रेनाइट व्यापार और माइनिंग से जुड़ी अनियमितताओं की तफ़्तीश के दौरान कई लोकेशन पर छापेमारी के बाद आगे होने वाली कार्रवाई से राहत दिलाने के लिए आरोपी सेटिंग कर रहा था. हालांकि, इस मामले में मंत्री गंगुला कमलाकर के तरफ से कोई औपचारिक तौर पर बयान नहीं आया है.

घूस में गोल्ड लेने सम्बंधित मामले की पड़ताल में जुटी सीबीआई की टीम

सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, आरोपी श्रीनिवास को रविवार शाम में हिरासत में लेने के बाद सोमवार सुबह उसके हैदराबाद स्थित आवास सहित अन्य लोकेशन पर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. दरअसल, सीबीआई की टीम दिल्ली स्थित तमिलनाडु भवन में इस आरोपी के खिलाफ जब जांच कर रही थी, उसी वक्त सर्च ऑपरेशन के दौरान काफी गोल्ड बरामद किया गया था. अनुमान लगाया जा रहा है कि ये घूस के तौर पर दिया गया है.

Tags: CBI Probe, CBI Raid, Gold

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें