Farmer Protest: दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मी पर किया हमला!

टिकरी बॉर्डर पर डटे किसान लगातार नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. (फाइल फोटो)

टिकरी बॉर्डर पर डटे किसान लगातार नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं. (फाइल फोटो)

Attack on Delhi Police: शुक्रवार को टिकरी बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली पुलिस के एक कॉस्टेबल पर हमला कर दिया. घायल पुलिसकर्मी अस्पताल में भर्ती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2021, 11:43 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. केंद्र सरकार के कृषि कानून के खिलाफ चल रहा किसान आंदोलन (Farmer Protest) शुक्रवार को हिंसक हो गया. टिकारी बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने एक पुलिसकर्मी पर कथित तौर पर हमला कर दिया. जानकारी के मुताबिक, घायल पुलिसकर्मी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. वहीं दूसरी ओर गाजीपुर बॉर्डर पर डटे किसानों ने अब आंदोलन से संबंधित मुकदमों की पैरवी कराने के लिए वकीलों का पैनल तैयार करने की रणनीति बनाई है. साथ ही जेलों में बंद आंदोलनकारी किसानों को छुड़ाने के लिए भी वकीलों का पैनल तैयार होगा. गाजीपुर बार्डर आंदोलन समिति के प्रवक्ता और सदस्य जगतार सिंह बाजवा ने बयान जारी कर कहा है कि पुलिस किसानों को नोटिस भेजकर डराने का प्रयास कर रही है. लेकिन किसान नोटिसों से डरने वाला नहीं है.

गाजीपुर बार्डर आंदोलन समिति की ओर से अधिवक्ताओं का पैनल तैयार किया जा रहा है. गाजीपुर किसान मोर्चा जेलों में बंद आंदोलनकारियों की जमानत कराएगा. बाजवा ने कहा कि किसी भी किसान को नोटिस मिले तो वह तत्काल गाजीपुर किसान मोर्चा को सूचित करे.

ये भी पढ़ें: Etawah News: गैंगस्टर अनीश पासू पर योगी सरकार का शिकंजा, विवादित संपति ध्वस्त करने का आदेश

शुरू हुई किसान महापंचायत
इधर, सयुंक्त किसान मोर्चा तीन कानूनों को रद्द करने और MSP को कानूनी मान्यता देने की मांगों पर कायम हैं. मोर्चा ने कहा है कि किसान महापंचायतों का दौर लगातार जारी है. आज पंजाब के जगरांव में विशाल सभा आयोजित की गई जिसमें किसानों के साथ-साथ अन्य नागरिकों ने भी बढ़ चढ़कर भागीदारी दिखाई. सिंघु बॉर्डर पर किसान नेताओं ने मंच से संबोधन करते हुए सयुंक्त किसान मोर्चें के आगामी कार्यक्रमों को लागू करवाने संबंधी विचार रखे. टीकरी बार्डर पर हरियाणा सरकार द्वारा सीसीटीवीलगाने के प्रस्ताव का किसानों ने विरोध किया. सयुंक्त किसान मोर्चा के डॉ दर्शन पाल ने कहा कि आने वाले समय मे देशभर में किसान महापंचायत आयोजित की जाएगी. मोर्चे की टीमें राज्यवार महापंचायतों के कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज