Kisan andolan- राकेश टिकैत ने फिर दिल्‍ली में घुसने की चेतावनी दी, जानें और क्‍या कहा?

राकेश टिकैत ने फिर भरी हुंकार  (फाइल फोटो)

राकेश टिकैत ने फिर भरी हुंकार (फाइल फोटो)

भारतीय किसान यूनियन (Bhartiy kisan Union) के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता राकेश टिकैत ने नए किसान कानून रद्द करने की मांग को लेकर किसानों से एक बार फिर दिल्‍ली कूच की तैयारी करने को कहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 7:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. भारतीय किसान यूनियन (Bhartiy kisan Union) के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता राकेश टिकैत ने नए किसान कानून (new agricultural laws) रद्द करने की मांग को लेकर किसानों से दिल्‍ली कूच की तैयारी करने को कहा है. उन्‍होंने कहा कि एक बार फिर बैरीकेड तोड़कर दिल्‍ली में घुसना होगा. उन्‍होंने जयपुर में आयोजित किसान रैली को संबोधित करते हुए और सोशल मीडिया के माध्‍यम से यह चेतावनी दी है. राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता के संबोधन के बाद गाजीपुर बार्डर पर धरना दे रहे किसान दिल्‍ली कूच को तैयार हैं. किसानों का कहना है कि वे दिल्‍ली कूच के लिए तैयार हैं, एक घंटेभर में कूच कर जाएंगे.

Youtube Video


आंदोलन लंबा चलने की पहले ही कर चुके हैं घोषणा

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने गाजीपुर बार्डर पर धरने पर बैठे किसानों से लंबे समय तक चलने वाले आंदोलन के लिए तैयार रहने को पहले ही कह चुके हैं. उन्‍होंने कहा कि यह आंदोलन नवंबर-दिसंबर तक खिंच सकता है, इसलिए धरना स्‍थल पर टेंटों को मौसमों के अनुसार ही बनाएं. राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता ने कहा कि आंदोलन से देश को किसी भी तरह से कोई नुकसान नहीं होगा, बल्कि नुकसान तो रेल बेचने और कर्मचारियों को नौकरियों से हटाने से होगा. उन्‍होंने आंदोलन के दौरान भी किसान खेत में काम कर रहा है, वो देश के लोगों को भूखा नहीं रहने देगा. 26  मार्च को भारत बंद होगा और 28 मार्च को देशभर में होलिका दहन में किसान विरोधी नए कानूनों की कॉपी जलाकर विरोध किया जाएगा और अगले दिन फूलों की होगी खेली जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज