COVID 19: फिर अभद्रता पर उतरे मरकज में शामिल जमाती, दिल्ली में महिला डॉक्टर से मारपीट का लगा आरोप

दोनों डॉक्टरों ने किसी तरह अपनी जान बचाई और वहां से बचते हुए ड्यूटी रूम में चले गए. (सांकेतिक फोटो)

दोनों डॉक्टरों ने किसी तरह अपनी जान बचाई और वहां से बचते हुए ड्यूटी रूम में चले गए. (सांकेतिक फोटो)

दिल्ली स्थित लोक नायक अस्पताल में कोरोना (Coronavirus) मरीजों का इलाज कर रही एक महिला डॉक्टर के साथ तबलीगी जमात के भर्ती लोगों ने पहले अभद्र भाषा में बात की और फिर मारपीट भी की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 15, 2020, 11:05 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना (Coronavirus) के खिलाफ लगातार लड़ रहे डॉक्टरों के साथ बदसलूकी के मामले बंद नहीं हो रहे हैं. खासकर निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के धार्मिक आयोजन में आए लोगों की ओर से हो रही अभद्रता के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. अब आरोप है कि दिल्ली स्थित लोक नायक अस्पताल में कोरोना मरीजों का इलाज कर रही एक महिला डॉक्टर के साथ तबलीगी जमात के भर्ती लोगों ने पहले अभद्र भाषा में बात की और फिर मारपीट. इस दौरान चिकित्सक के बचाव के लिए जब एक पुरुष डॉक्टर आए तो तबलीगियों ने उन्हें भी घेर लिया और मारपीट शुरू कर दी. इस दौरान दोनों डॉक्टरों ने किसी तरह अपनी जान बचाई और वहां से बचते हुए ड्यूटी रूम में चले गए. बाद में खुद को वहां बंद कर सिक्योरिटी को फोन कर बुलाया. बाद में सुरक्षाकर्मियों ने वहां से डॉक्टरों को बाहर निकाला.

जमाती पहले भी कर चुके हैं ऐसा

इससे पहले भी तबलीगी जमात के लोग चिकित्साकर्मियों के साथ बदसलूकी कर चुके हैं. इससे पहले गाजियाबाद के एक अस्पताल में भर्ती तबलीगी जमात के लोगों ने नर्सों के सामने अपनी पेंट खोल दी थी और उन्हें गलत इशारे भी किए थे. जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने पुलिस की मदद ली थी और छह लोगों पर मामला दर्ज किया गया था.

सफदरजंग की महिला डॉक्टरों से भी अभद्रता
इससे पहले बुधवार रात को सफदरजंग अस्पताल में तैनात दो महिला डॉक्टरों के साथ गौतम नगर इलाके में एक व्यक्ति ने बदसलूकी की थी. इस संबंध में महिला डॉक्टरों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसके बाद पुलिस ने डॉक्टरों के साथ मारपीट और अभद्र व्यवहार करने के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया था. जानकारी के अनुसार, बुधवार रात 9.30 बजे दोनों महिला डॉक्टर काम से लौटने के बाद कुछ जरूरी सामान लेने के लिए गुलमोहर एन्‍क्लेव के पास एक दुकान पर गईं. यहां पर पहले से मौजूद एक व्यक्ति ने उनको पहले सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में कहा. जब दोनों डॉक्टरों ने कहा कि उन्हें इस संबंध में जानकारी है तो आरोपी गुस्सा गया और मामला दर्ज करवाने की धमकी देने लगा. इस पर डॉक्टरों ने उस पर ध्यान नहीं दिया तो वह चिल्लाने लगा कि दोनों कोरोना फैला रही हैं. जब वे वहां से जाने लगीं तो आरोपी ने उनका रास्ता रोका और मारपीट करने लगा. इसके साथ ही उसने दोनों चिकित्सकों को गलत तरीके से छुआ. बाद में मामला बढ़ता देख वह वहां से चला गया.

किया गया गिरफ्तार

इसके बाद दोनों डॉक्टरों ने पुलिस से संपर्क किया. पुलिस ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों चिकित्सकों की मेडिकल जांच करवाई और मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया. सफदरजंग हॉस्पिटल रेजिडेंट डॉक्टर्स ऐसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ मनीष ने इस वारदात की निंदा करते हुए कहा था कि महिला डॉक्टरों के साथ ऐसा क्यों किया गया, जबकि वे सिर्फ अपने घर का कुछ जरूरी सामान खरीदने गई थीं. उन्होंने आरोपी पर सख्त कार्रवाई की मांग की है.





ये भी पढ़ेंः दिल्ली में डरा रहा मौत का आंकड़ा, 1 महीने में 30 मौत, 50% पिछले 4 दिनों में ही
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज