लाइव टीवी

निजामुद्दीन मरकज़ मामला: जगह को खाली कराने में लगे 5 दिन, इन पांच लोगों के खिलाफ दर्ज हुई FIR
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: April 1, 2020, 11:08 AM IST
निजामुद्दीन मरकज़ मामला: जगह को खाली कराने में लगे 5 दिन, इन पांच लोगों के खिलाफ दर्ज हुई FIR
File Photo.

Nizamuddin Markaz Case: एफआईआर में मौलाना मोहम्‍‍‍‍मद साद, डॉ. जीशान, मुफ्ती शहजाद, मुर्सलीन सैफी, यूनुस और मोहम्मद सलमान के नाम शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 1, 2020, 11:08 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के निज़ामुद्दीन मरकज़ (Nizamuddin Markaz) मामले में दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली है. एफआईआर में मौलाना मोहम्‍‍‍‍मद साद, डॉ. जीशान, मुफ्ती शहजाद, मुर्सलीन सैफी, यूनुस और मोहम्मद सलमान के नाम शामिल हैं. एसएचओ मुकेश वालिया की ओर से शिकायत दर्ज करवाई गई हैं. जानकारी के मुताबिक, आरोपी साद के दिल्ली के जाकिर नगर और निज़ामुद्दीन इलाके में दो घर हैं. दिल्‍ली पुलिस के सूत्रों ने बताया कि साद का पिछले 28 मार्च से ही कोई अता-पता नहीं है. उसका अंतिम लोकेशन जाकिर नगर में मिला बताया जा रहा है. दूसरी तरफ, मरकज़ को खाली करने में लगभग 5 दिन लगे. यहां लगभग 2100 लोग थे.

एफआईआर दर्ज कराने की सिफारिश 
24 मार्च को दिए गए निर्देश और नोटिस के बावजूद और एफआईआर के अनुसार, इन लोगों (तबलीगी जमात) ने जगह खाली नहीं की. वे सभी इस विशाल सभा के लिए जिम्मेदार हैं. वहीं अब इस मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी. गौरतलब है कि मंगलवार सुबह सीएम अरविंद केजरीवाल और सोमवार रात दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सतेन्द्र जैन ने एलजी को एक खत लिखा था. खत में मरकज की इंतजामियां के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की सिफारिश की गई थी.

 216 विदेशी नागरिक 



बता दें दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में स्थित मरकज़ में एक हजार से ज्यादा लोगों के मौजूद होने की जानकारी सरकारी एजेंसियों को मिली थी. गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, इसमें से 216 विदेशी नागरिक थे. इसके अलावा देश के कई हिस्सों में 824 विदेशी मौजूद थे. दरअसल, तबलीगी की गतिविधियां डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर के माध्यम से संचालित होती हैं. इस मामले के सामने आने के बाद अभी तक देश में मौजूद इनके डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर और प्रदेश प्रशासन के माध्यम से 2137 लोगों की पहचान हुई है. इन्हें अलग रखा गया है. इनकी पहचान करने की प्रक्रिया लगातार जारी है.



1203 लोगों की स्क्रीनिंग
जानकारी मिली है कि यहां मौजूद लोगों की 26 मार्च से लगातार मेडिकल जांच चल रही है. इनमें से 303 लोगों में कोरोना से संबंधित संक्रमण की जानकारी मिली है. सूत्रों के अनुसार, अब तक कुल 1203 लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है.

ये भी पढ़ें:

मरकज मामले पर बोले CM केजरीवाल- भीड़ जुटाना गलत, दोषी बख्शे नहीं जाएंगे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 10:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading