AAP के कठघरे में योगी सरकार, सांसद संजय सिंह पर दर्ज करवाई FIR
Lakhimpur-Kheri-Uttar-Pradesh News in Hindi

AAP के कठघरे में योगी सरकार, सांसद संजय सिंह पर दर्ज करवाई FIR
आप नेता संजय सिंह के खिलाफ उत्तर प्रदेश में एफआईआर दर्ज करवाई गई.

एफआईआर (FIR) में आरोप लगाया गया है कि आम आदमी पार्टी (AAP) के सांसद संजय सिंह ने समाज को बांटने व सामाजिक समरसता बिगाड़ने के उद्देश्य से बयानबाजी की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 7:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) पर टिप्पणी करने के मामले में आम आदमी पार्टी (AAP) के सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) पर लखीमपुर-खीरी (Lakhimpur Kheri) में एफआईआर (FIR) दर्ज की गई है. अरविंद गुप्ता नाम के युवक ने गोला गोकर्णनाथ कोतवाली में तहरीर दी थी. तहरीर के आधार पर धारा 153A. 505(2) में मुकदमा दर्ज किया गया है. एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने अपने सहयोगी सभाजीत सिंह और बृजकुमारी के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसकी रिपोर्ट 13 अगस्त को समाचार पत्रों में छपी है. इसमें संजय सिंह ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाए हैं कि प्रदेश में लोगों को चुन-चुनकर मारा जा रहा है. ब्राह्मणों पर अत्याचार हो रहा है. भाजपा के 58 विधायक ब्राह्मण हैं और वे भी बहुत गुस्सा हैं. उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ब्राह्मण हैं, लेकिन वे आवाज नहीं उठाते. डिप्टी सीएम केशव मौर्य एक भी मौर्य का काम नहीं करा पाए. राष्ट्रपति दलित हैं, उन्हें भी राम मंदिर शिलान्यास में नहीं बुलाया गया. राजभर, कुर्मी, यादव, सोनकर, निषाद, तेली, नाई आदि सरकार से नाराज हैं. उन्होंने इन वर्गों से नियुक्त डीएम और एसपी की संख्या भी पूछी. शिकायत में आरोप लगाया है कि उन्होंने समाज को बांटने व सामाजिक समरसता बिगाड़ने के उद्देश्य से बयानबाजी की है.

पीड़ितों की आवाज उठाता रहूंगा : संजय सिंह

इस FIR के बाद संजय सिंह ने कहा, भगवान राम क्षत्रीय होते हुए भी सभी जातियों को साथ लेकर चले. शबरी के जूठे बेर खाए. निषादराज की नैया पर बैठकर नदी पार की. बंदर-भालू सभी उनकी सेना में थे. योगी जी अगर सचमुच में रामराज लाना चाहते हैं तो सभी जातियों और धर्मों के लिए एकसाथ काम करें. सब के हित में काम करें. उन्होंने कहा कि मैंने कोई गलत सवाल नहीं उठाया. योगी सरकार की गलत कार्य पद्धति की वजह से एक जाति बाकी सभी जातियों की दुश्मन बन रही है और मैं हमेशा हर धर्म, हर जाति के पीड़ित लोगों की आवाज उठाता आया हूं, हमेशा उठाता रहूंगा. चाहे वह बुलंदसहर के सुबोध सिंह की हत्या का मामला हो या दलितों का मुद्दा हो. पिछड़ों का हो या फिर अल्पसंख्यकों का मुद्दा हो.





ताबड़तोड़ चार ट्वीट किए संजय सिंह ने

संजय सिंह ने मुकदमा दर्ज होने के बाद अपने ट्वीटर हैंडल से चार ट्वीट किए हैं. अपने पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'मुक़दमा दर मुक़दमा दिल्ली से लखीमपुर तक मुक़दमा, सच बोलता रहूँगा, योगी जी से अनुरोध है कृपया जल्द गिरफ़्तार करें मुझ जैसा ख़ूँख़ार अपराधी कहीं बच ना जाय।' अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा, '“उसूलों पर जो आँच आये तो टकराना ज़रूरी है जो ज़िन्दा है तो फिर ज़िन्दा नज़र आना ज़रूरी है” लिखो मुक़दमा योगी जी' इस बाबत लिखे चौथे ट्वीट में उन्होंने मामला दर्ज करने पर तंज कसा है. उन्होंने लिखा, 'उत्तर प्रदेश में 75जिले हैं,अभी मात्र 2जिलों में FIR हुईं हैं, इतने धीरे काम करोगे तो कैसे काम चलेगा बाबा?कम से कम उत्तर प्रदेश के हर जिले के हर थानों में एक FIR तो बनती ही हैं। लेकिन याद रखिएगा योगी जी संजय सिंह न झुकेगा, न रुकेगा,न टूटेगा,सच बोलता रहेगा।'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज