• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • दिल्ली हिंसा: UAPA में उमर खालिद को स्‍पेशल सेल ने किया गिरफ्तार, आज होगी पेशी

दिल्ली हिंसा: UAPA में उमर खालिद को स्‍पेशल सेल ने किया गिरफ्तार, आज होगी पेशी

खालिद को 13 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था.

खालिद को 13 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था.

Delhi riots case: दिल्ली पुलिस के मुताबिक, उमर खालिद का नाम दिल्ली दंगों की लगभग हर चार्टशीट में है. उमर खालिद की गिरफ्तारी यूएपीए (UAPA) के तहत हुई है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल उमर खालिद को सोमवार को ही कोर्ट में पेश करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने दिल्ली दंगों (Delhi Riots) की साज़िश के मामले में जेनएयू (JNU) के पूर्व छात्र उमर ख़ालिद (Umar Khalid) को गिरफ्तार कर लिया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, उमर खालिद का नाम दिल्ली दंगों की लगभग हर चार्टशीट में है. उमर खालिद की गिरफ्तारी गैर-कानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) के तहत की गई है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल उमर खालिद को सोमवार को ही कोर्ट में पेश करेगी.

    इस मामले में खालिद से दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल पहले भी दो बार पूछताछ कर चुकी है. पहली बार कुछ महीने पहले पूछताछ की गई थी, जबकि दूसरी बार 2 सितंबर को उससे पूछताछ की गई थी. इतना ही नहीं पूछताछ करने के बाद पुलिस ने उसका मोबाइल फोन भी जांच के लिए जब्त किया था.

    दिल्ली पुलिस ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आने के पहले उसके भाषण और दिल्ली में आरोपियों के साथ हुई बातचीत के कॉल रिकार्ड, आरोपियों के साथ मीटिंग और आरोपियों के बयानों में साज़िशकर्ता बताने पर उमर खालिद को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जाफराबाद में हुई हिंसा के मामले में एफआईआर में देवांगना कलिता, नताशा नरवाल, गुलफिशा फातिमा के खिलाफ सप्लीमेंट्री चार्जशीट दायर की है. चार्जशीट में इन लोगों को मुख्य आरोपी बताया गया है.



    23 से 26 फरवरी के बीच हुए थे दंगे
    दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में 23 से 26 फरवरी के बीच दंगे हुए थे. इसी मामले में पुलिस ने जो पूरक आरोप-पत्र दायर किया है, उसमें इन सभी के नाम हैं. आरोप-पत्र में दावा किया गया है कि दंगों में 53 लोगों की मौत हुई थी और 581 लोग घायल हो गए थे, जिनमें से 97 लोग गोली लगने से घायल हुए थे. पुलिस ने इन जाने माने लोगों को तीन छात्राओं के बयान के आधार पर आरोपी बनाया है.

    यूं रची साजिश
    आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन ने अभी कुछ महीने पहले दिल्ली पुलिस की पूछताछ में कबलू किया था, '8 जनवरी को खालिद सैफी ने मुझे जेएनयू (JNU) के पूर्व छात्र उमर खालिद से शाहीन बाग में पीएफआई (PFI) के दफ्तर में मिलवाया था. जहां उमर खालिद ने बोला कि वो मरने मारने को राजी है. वहीं, खालिद सैफी ने कहा कि पीएफआई का सदस्य दानिश हिंदुओं के खिलाफ जंग में हमारी पूरी फाइनेंशियल मदद करेगा.' साथ ही ताहिर ने बताया कि पीएफआई के दफ्तर में हमने प्लान बनाया, दिल्ली में कुछ ऐसा करेंगे, जिससे ये सरकार हिल जाए. इसके बाद वह सीएए कानून वापस ले लेंगे. खालिद सैफी का काम लोगों को भड़का कर सड़कों पर उतारने का था.

    delhi riots 2020
    दिल्ली दंगों में सैकड़ों लोगों की मौत हो गई थी.


    उमर खालिद ने की लोगों से सड़क पर उतरने की अपील
    यही नहीं, ताहिर हुसैन ने आगे बताया कि 17 फरवरी 2020 को उमर खालिद ने ट्रम्प की विजिट के दौरान लोगों से सड़कों पर उतरने की अपील की थी. उस वक्‍त मुझे तेजाब भी इकट्ठा करने को कहा गया था ताकि उसे पुलिस पर फेंका जा सके. मैंने अपनी छत पर बहुत तादात में तेजाब, पेट्रोल, डीजल और पत्थरों को भी इकट्ठा कर रख लिया था. वहीं, मैंने अपनी पिस्टल जो थाने में जमा थी उसे भी दंगो में इस्तेमाल करने के लिए छुड़ा लिया था.

    ताहिर हुसैन को मिला ये टास्‍क
    ताहिर हुसैन ने दिल्‍ली पुलिस को बताया, 'मुझे ज्यादा से ज्यादा कांच की बोतल, पेट्रोल, तेजाब, और पत्थर इकट्ठा कर अपने घर की छत पर रखने का टास्‍क दिया गया था. इसके अलावा खालिद सैफी ने अपने जानकारों की मदद से लोगों को सड़कों पर इकट्ठा कर धरने प्रदर्शन के लिए तैयार किया था. वहीं, खालिद सैफी ने अपनी दोस्त इशरत जहां के साथ मिलकर सबसे पहले शाहीन बाग की तर्ज पर खुरेजी में धरना प्रदर्शन शुरू करवाया. फिर जगह-जगह धरने प्रदर्शन शुरू हो गए. इसके बाद 4 फरवरी को अबू फजल इंक्लेव में मेरी खालिद सैफी से दंगों की प्लानिंग को लेकर मुलाकात हुई. जबकि उमर खालिद ने कहा कि पैसों की चिंता न करें उसके लिए PFI, जामिया कार्डीनेशन कमेटी, कई राजनीतिक लोग, वकील और अन्य मुस्लिम संगठन हमारी मदद कर रहे हैं. इस दौरान तय किया कि CAA विरोधी धरने पर बैठे लोगों को भड़का कर चक्का जाम करवाया जाए. अगर पुलिस या दूसरे धर्म के लोग इसको रोकेंगे तो हम अपने लोगों को भड़का कर दंगे शुरू करवा देंगे.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज