• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • ‘दिल्‍ली हिंसा में महिलाओं और बच्‍चों का हुआ इस्‍तेमाल’, पढ़ें-उमर खालिद का इकबालिया बयान

‘दिल्‍ली हिंसा में महिलाओं और बच्‍चों का हुआ इस्‍तेमाल’, पढ़ें-उमर खालिद का इकबालिया बयान

दिल्‍ली पुलिस को दिए इकबालिया बयान में उमर खालिद ने दिल्‍ली हिंसा को लेकर कई खुलासे किए हैं.

दिल्‍ली पुलिस को दिए इकबालिया बयान में उमर खालिद ने दिल्‍ली हिंसा को लेकर कई खुलासे किए हैं.

दिल्‍ली पुलिस को दिए इकबालिया बयान में उमर खालिद ने कहा है, ‘2019 में जिस तरह से संसद में भारत सरकार ने नागरिकता संसोधन बिल पेश किया. उसके बाद मैंने अपने साथी जो यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के सदस्य थे, हम सब ने मिलकर एक मीटिंग की कि एंटी सीएए बिल मुसलमानों के खिलाफ है. इसके लिए हमें आवाज उठानी चाहिए.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. दिल्‍ली में साल की शुरुआत में हुई हिंसा के आरोपी उमर खालिद (Umar Khalid) के खिलाफ पुलिस ने आज ( 31 दिसंबर) चार्जशीट दाखिल की है, जिसमें उसका पुलिस को दिया गया इकबालिया बयान भी शामिल किया गया है. अपने इस बयान में उमर खालिद ने फैलाई गई हिंसा के लिए साजिश रचने और महिलाओं व बच्‍चों के इस्‍तेमाल करने संबंधी कई खुलासे किए हैं.

इस बयान में उमर ने कहा है, ‘2019 में जिस तरह से संसद में भारत सरकार ने नागरिकता संसोधन बिल पेश किया. उसके बाद मैंने अपने साथी जो यूनाइटेड अगेंस्ट हेट (United Against Hate) के सदस्य थे, हम सब ने मिलकर एक मीटिंग की कि एंटी सीएए (CAA) बिल मुसलमानों के खिलाफ है. इसके लिए हमें आवाज उठानी चाहिए. मेरी बात पर यूनाइटेड अगेंस्ट हेट के सदस्य सहमत हो गए. तब हमने योजना बनाई की जेएनयू (JNU) और जामिया (Jamia) के मुस्लिम छात्र मिलकर इस बिल के खिलाफ आवाज उठाते हैं, क्योंकि भारत सरकार बिना दबाव बनाए इस बिल को वापस नहीं लेगी. इसके बाद हमने यूनाइटेड अगेंस्ट हेट, जेएनयू और जामिया के मुस्लिम छात्रों को इकट्ठा करने के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया, जिसमें देखते ही देखते काफी लोग इकट्ठा हो गए.’

उमर ने आगे कहा है, ‘फिर हमने जंतर मंतर पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन शुरू किए. जिसके बाद मैंने अपने साथियों के साथ मीटिंग की और अपने आंदोलन को अगले पड़ाव पर ले जाने की प्लानिंग बनाई. जिसके लिए हमने बच्चों और औरतों को आगे रखकर पूरी दिल्ली में चक्का जाम करने की योजना बनाई. इसके लिए बाकायदा एक और नया व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया ‘ हम भारत के लोग’  नाम से. उधर जब तक एंटी CAA बिल लोकसभा में पास कर दिया गया था और यह एक कानून बन गया.’

‘इसके बाद हमने योजना बनाई कि हमें और सख्त तरीके से चक्का जाम करने की जरूरत है. हमने 16 और 17 फरवरी की शाम एक मीटिंग में तय किया कि दंगा ही एक मात्र तरीका है जिससे भारत सरकार पर दबाव बनाया जा सकता है. फिर मैंने ही लोगों से कहा कि वो अपने पास पत्थर, तेजाब, पेट्रोल और हथियारोंं को इकट्ठा करके रखें. जब जरूरत पड़ेगी इसका इस्तेमाल करें. मैं दिल्ली में करीब 23-24 जगह चल रहे एंटी CAA प्रदर्शनोंं में शामिल हुआ. मैं अमरावती और महाराष्ट्र में भी प्रदर्शन में शामिल होने गया था. जहां मैंने कहा कि हम सब डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के दौरान 24 फरवरी को सड़कों पर आकर भारत सरकार पर दबाव बनाएंगे. जबकि हमारे लोगोंं ने अपनी योजना के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रम्प की यात्रा के दौरान ही 24 तारीख को दिल्ली के अलग अलग इलाकोंं में चक्का जाम करवाना शुरू कर दिए. वहीं, देखते ही देखते उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाको में दंगे फैल गए.'

बता दें कि न्यूज़ 18  इंडिया के पास उमर खालिद के इकबालिया बयान की कॉपी भी मौजूद है. साथ ही यह बयान चार्जशीट में भी शामिल किया गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज