Delhi: पूर्व सांसद शाहिद सिद्दीकी की भतीजी को नहीं मिला वेंटिलेटर, अस्पताल में तोड़ा दम
Delhi-Ncr News in Hindi

Delhi: पूर्व सांसद शाहिद सिद्दीकी की भतीजी को नहीं मिला वेंटिलेटर, अस्पताल में तोड़ा दम
Demo Pic.

पूर्व सांसद शाहीद सिद्दीकी ने ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन से भी मदद मांगी थी.

  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व सांसद और पत्रकार शाहिद सिद्दीकी (Shahid Siddiqui) की भतीजी की मौत हो गई है. दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल (Safdarjung Hospital) में रविवार रात उनकी भतीजी ने दम तोड़ दिया. एक ट्वीट कर शाहीद ने यह जानकारी दी है. साथ ही उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि अस्पतालों की हालत बहुत खराब है. लोग मर रहे हैं. मेरी भतीजी की हालत बेहद खराब थी, बावजूद इसके उसे न तो आईसीयू में रखा गया और ना ही वेंटिलेटर पर.

शाहिद सिद्दीकी ने कहा कि कोरोना वायरस पर सियासत करना और एक-दूसरे पर आरोप लगाना अब बंद करें. अगर हमारी सरकारें, मीडिया, ब्यूरोक्रेसी, एनजीओ और सोशल सिस्टम एकजुट नहीं हो सकते तो यह आने वाला एक बड़ा संकट है. बीते दिनों उन्होंने ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन से भी मदद मांगी थी.

पूर्व सांसद ने इससे पहले कहा था, 'दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल टीवी पर आकर चाहे कितने भी दावे कर लें, लेकिन हकीकत यह है कि अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों के लिए पर्याप्त बेड नहीं हैं.' पत्रकार शाहिद सिद्दीकी ने शनिवार की रात ट्वीट कर कहा कि उनकी भतीजी को तेज बुखार है और उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही है. उसे लेकर हम दिल्ली के कई अस्पतालों में गए, लेकिन कहीं भी उसे एडमिट नहीं किया गया. ये हम किस तरह का सिस्टम चला रहे हैं?
सिद्दीकी ने अपने ट्वीट में अरविंद केजरीवाल और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन के ऑफिस को टैग करते हुए लिखा, प्लीज हेल्प. उनके इस ट्वीट से स्पष्ट होता है कि उन्हें अपनी भतीजी के कोरोना संक्रमित होने का अंदेशा है.



ये भी पढ़ें:-

Unlock 1.0: कल से खुलेंगे मॉल-मंदिर और बॉर्डर, यहां जानें केजरीवाल सरकार ने आपको कितनी दी राहत

फिर बंद हो सकती है शाहीन बाग-कालिंदी कुंज सड़क, Delhi Police कमिश्नर और गृह सचिव को लिखा लैटर!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज