केजरीवाल सरकार के खिलाफ पूर्व केंद्रीय मंत्री ने निकाली साइकिल रैली, कहा-प्रदूषण के खिलाफ नहीं उठाया कोई ठोस कदम!

विजय गोयल के नेतृत्व में सीएम के इस्तीफे की मांग को लेकर दिल्ली सचिवालय तक साइकिल रैली निकाली.

विजय गोयल के नेतृत्व में सीएम के इस्तीफे की मांग को लेकर दिल्ली सचिवालय तक साइकिल रैली निकाली.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल (Vijay Goel) के नेतृत्व में सीएम केजरीवाल के इस्तीफे की मांग को लेकर दिल्ली सचिवालय तक आज साइकिल रैली निकाली गई. सबसे प्रदूषित राजधानी के लिए केजरीवाल जिम्मेदार हैं. विश्व वायु गुणवत्ता रिपोर्ट के अनुसार देश की राजधानी दिल्ली दुनिया भर में सबसे ज्यादा प्रदूषित है और इस प्रदूषण के कारण दिल्ली में हजारों लोग मर रहे हैं और बीमार हो रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 9:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानी के लिए केजरीवाल जिम्मेदार हैं. पूर्व केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल (Vijay Goel) के नेतृत्व में सीएम केजरीवाल के इस्तीफे की मांग को लेकर दिल्ली सचिवालय तक आज साइकिल रैली निकाली गई.  गोयल के साथ इस रैली में दिल्ली विधानसभा (Delhi Assembly) के सदस्य जितेन्द्र महाजन, अनिल वाजपेयी व अन्य नेता शामिल हुए. रास्ते में उनके साथ पुलिस की झड़प भी हुई और आई.टी.ओ. चौक पर उनको रोक दिया गया.




गोयल ने कहा कि ‘आईक्यू एयर’ की ओर से तैयार की गई विश्व वायु गुणवत्ता रिपोर्ट के अनुसार देश की राजधानी दिल्ली दुनिया भर में सबसे ज्यादा प्रदूषित है और इस प्रदूषण के कारण दिल्ली में हजारों लोग मर रहे हैं और बीमार हो रहे हैं.


Youtube Video



गोयल ने कहा कि एक तरफ तो केजरीवाल दिल्ली में उपराज्यपाल से ज्यादा अधिकारों की बात कर रहे है और दूसरी तरफ उनके पास जो अधिकार पहले से हैं. उनका उपयोग न कर वे दिल्ली का विकास नहीं कर रहे. यदि केजरीवाल सरकार 1000 बसें लाकर पब्लिक ट्रांसपोर्ट को सुदृढ़ करती, बाईसाइकिल लेन बनाती, तीनों एमसीडी को आर्थिक सहयोग कर स्वच्छता पर ध्यान देती, प्रदूषण फैलाने वाली औद्योगिक इकाइयों पर रोक लगाती, स्माॅग फ्री टावर लगाती, यमुना को साफ करती तो दिल्ली में इतना प्रदूषण नहीं होता. फ्री बिजली-पानी का लालच देकर दिल्ली सरकार (Delhi Government) दिल्ली के अहम मुद्दों पर्यावरण, स्वास्थ्य को भूल गई.






विधायक जितेन्द्र महाजन ने कहा कि अकेले गमले में पानी डालने और चौराहों पर हाथ में तख्ती पकड़कर खड़े होने से प्रदूषण कम नहीं हो सकता.




विधायक अनिल वाजपेयी ने कहा कि दिल्ली में तबाही का आलम यह है कि दिल्ली के नागरिकों के राशन कार्ड बन नहीं रहे. इसलिए दिल्ली के नागरिकों को राशन भी नहीं मिल रहा.




यमुना की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रहा, यमुना मैली की मैली है. दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए ऑड-इवन (Odd-Even) योजना के नाम पर दिल्ली का करोड़ों रूपया विज्ञापनों पर फूंक दिया, जिसको दिल्ली के विकास कार्यों पर लगाया जा सकता था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज