पूर्व केंद्रीय मंत्री ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा-पंजाब नहीं, दिल्ली के लोगों को बांटे ऑक्सीमीटर

दिल्ली की जनता ऑक्सीजन (Oxygen) के बिना हर रोज मर रही हैं. (File Image)

दिल्ली की जनता ऑक्सीजन (Oxygen) के बिना हर रोज मर रही हैं. (File Image)

COVID 19 in Delhi: पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा किदिल्ली के मुख्यमंत्री का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह पंजाब में गली-गली मोहल्ले के घर-घर में ऑक्सीमीटर बाँटने की बात कह रहे हैं. भगवान के लिए पंजाब को वहां के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के लिए छोड़ दो आप दिल्ली में तो कुछ करके दिखाओ. दिल्ली की जनता ऑक्सीजन के बिना हर रोज मर रही हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा (BJP) के वरिष्ठ नेता विजय गोयल ने कहा कि कोविड (COVID) में पहले केंद्र व अब सेना पर सब कुछ डाल के केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) ने कोविड में अपनी सब जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ लिया है.

अपनी नाकामियों को छुपाने के लिए वह कभी पड़ोस के मुख्यमंत्रियों को कभी केंद्र सरकार (Central Government) को और अब सेना (Military) को पत्र लिख रहे हैं की दिल्ली में हमको सेना दे दो, टेंकर दे दो, सेना के हॉस्पिटल दे दो.

गोयल ने कहा केजरीवाल सरकार जवाब दे 6 साल में उन्होंने जो दावा किया की स्वास्थ्य सेवाओं में 80 हज़ार करोड़ खर्च किया वो कहां हैं? 6 सालो में दिल्ली में एक नया हॉस्पिटल नहीं खुला, नए बैड भी बढ़ाये नहीं गए यहाँ तक की ऑक्सीजन प्लांट भी नहीं लगाए केवल दिखाने के लिए छोटे छोटे मोहल्ला क्लीनिक खोल दिए जिनका अब दूर दूर तक पता नहीं है.

गोयल ने कहा कि बड़ा आश्चर्य है दिल्ली के मुख्यमंत्री का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह पंजाब में गली-गली मोहल्ले के घर-घर में ऑक्सीमीटर बाँटने की बात कह रहे हैं. भगवान के लिए पंजाब को वहां के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amrinder Singh) के लिए छोड़ दो, आप दिल्ली में तो कुछ करके दिखाओ. दिल्ली की जनता ऑक्सीजन (Oxygen) के बिना हर रोज मर रही हैं.
गोयल ने कहा उन्होंने दिल्ली के मुख्य सचिव (Chief Secretary) को सुझाव दिया है कि वो दिल्ली सरकार (Delhi Government) के मंत्री व अधिकारियों की लिस्ट समाचार पत्रों में जारी करें. ऑक्सीजन सिलिंडर (Oxygen cylinder) के लिए और ऑक्सीजन भरने के लिए कौन अधिकारी जिम्मेदार हैं? हॉस्पिटल में आई.सी.यू. बैड के लिए कौन नोडल अधिकारी है? रेमडेसिविर के कालाबाज़ारी को रोकने के लिए कौन अधिकारी देखेंगे?

गोयल ने कहा कि अधिकारियों को ये आदेश दिए जाने चाहिए कि वो आम जनता के फोन जरूर उठायें. दिल्ली में जनता को सही स्थिति का ही ज्ञान नहीं हैं, लोग इधर-उधर भटक रहे हैं. उन्हें कोई बताने वाला नहीं हैं कि उन्हें ऑक्सीजन मिलेगी या नहीं मिलेगी. दिल्ली सरकार के वेबसाइट पर बेड दिखाए जाते हैं, पर हॉस्पिटल पहुँचने पर बोर्ड लगे मिलते हैं कि यहाँ कोई बैड नहीं है.

गोयल ने कहा कि दिल्ली सरकार सही जानकारी के लिए एक श्वेत पत्र जारी करे जिसमें हॉस्पिटल, आई.सी.यू. बैड, ऑक्सीजन बैड, ऑक्सीजन, इंजेक्शन, दवाइयां इन सब की जानकारी हो.



गोयल ने दिल्ली सरकार को पूरा समर्थन देने का आश्वासन दिया और कहा कि सभी राजनीतिक दलों को विश्वास में लिया जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज