लाइव टीवी

JNU हिंसा मामले में 34 घायल हॉस्पिटल से डिस्चार्ज, अब तक 4 मामले दर्ज: दिल्ली पुलिस
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: January 6, 2020, 9:02 PM IST
JNU हिंसा मामले में 34 घायल हॉस्पिटल से डिस्चार्ज, अब तक 4 मामले दर्ज: दिल्ली पुलिस
दिल्ली पुलिसे के प्रवक्ता एमएस रंधावा. (फोटो साभार: ANI)

जेएनयू (JNU) हिंसा के सभी 34 घायलों को सोमवार शाम को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है. वहीं इस मामले की जांच जॉइंट सीपी (बेस्ट) शालिनी सिंह को सौंपी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2020, 9:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: जेएनयू (JNU) हिंसा के सभी 34 घायलों को सोमवार शाम को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है. वहीं इस मामले की जांच जॉइंट सीपी (बेस्ट) शालिनी सिंह को सौंपी गई है. इस मामले में 4 केस दर्ज हुए हैं. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने एक प्रेस वार्ता के दौरान यह जानकारी. उन्होंने बताया कि क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच कर रही है. उन्होंने यह भी बताया कि दिल्ली पुलिस सीसीटीवी की फुटेज खंगालने के अलावा दूसरे सबूत इकट्ठा कर रही है. बता दें कि पिछले कुछ दिन से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन को लेकर छात्र संगठनों के बीच टकराव चल रहा था.


दिल्ली पुलिस को रविवार शाम 5 बजे मिली थी सूचना
उन्होंने बताया कि रविवार शाम 5 बजे के आसपास दिल्ली पुलिस को सूचना मिली थी. लेकिन दिल्ली पुलिस को शाम 7:45 में जेएनयू के वीसी ने अंदर आने की अनुमति दी. उन्होंने यह भी बताया कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद सादा वर्दी में पुलिस एडमिन ब्लॉक में रहती है.

जानकारी मिलने पर पहुंची पीसीआर और मौजूद पुलिसउन्होंने कहा कि शाम 5 बजे घटना की जानकारी मिलने के बाद दिल्ली पुलिस की पीसीआर और जो पुलिस वहां मौजूद थी, वो तुरंत मौके पर पहुंची. बाद में वीसी की परमिशन से अंदर गए. उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस इस मामले में वॉट्सएप ग्रुप और कोड वर्ड के बारे में भी जांच कर रही है. उन्होंने यह भी बताया कि यूनिवर्सिटी के अंदर बाहरी लोग अंदर कैसे गए, इसकी जांच की जा रही है.

जेएनयू प्रशासन ने दर्ज कराए 3 केस
बता दें कि इस साल 3 और 4 जनवरी को रजिस्ट्रेशन के सर्वर तोड़े गए थे. उस मामले में पहले से 3 केस दर्ज हैं. ये शिकायतें जेएनयू प्रशासन ने दर्ज कराई थी. बताया जा रहा है कि 5 जनवरी को लेफ्ट विंग के छात्र पेरियार होस्टल गए वहां मारपीट हुई. इसके बाद फिर एक पैदल मार्च हो रहा था. इस दौरान साबरमती ढाबे के पास मारपीट हुई.

यह भी पढ़ें:

JNU हिंसा: दिल्ली पुलिस ने FIR में माना- उनके सामने से दो बार भाग गए 40-50 नकाबपोश

राहुल गांधी दे रहे अराजकता का साथ, JNU में हमला करने वालों को मिले सजा: गिरिराज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 6, 2020, 8:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर