Lockdown के दौरान Delhi-NCR में 4 बार इसलिए लगे भूकंप के झटके
Delhi-Ncr News in Hindi

Lockdown के दौरान Delhi-NCR में 4 बार इसलिए लगे भूकंप के झटके
झारखंड के जमशेदपुर में आज सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए.

इंडियन प्लेट्स (Indian Plaets) और यूरेशियन प्लेट्स एक-दूसरे के विपरीत सरक रही हैं. वैसे यह प्लेट एक साल में चार सेमी खिसकते हैं. जब इन इलाक़ों मे तनाव बढ़ता है तो भूकम्प आता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान 50 दिन में चार बार दिल्ली भूकंप (Earthquake) के झटकों से हिल चुकी है. हालांकि रिएक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता कम थी. बावजूद इसके दिल्ली के कुछ इलाकों में इसका खतरा अभी टला नहीं है. जानकार बताते हैं कि अभी दिल्ली को भूकंप के झटके और झेलने होंगे. लिथोस्फीयर की प्लेट्स आपस में रगड़ खा रही हैं.

इंडियन प्लेट्स (Indian Plaets) और यूरेशियन प्लेट्स एक-दूसरे के विपरीत सरक रही हैं. वैसे यह प्लेट एक साल में चार सेमी खिसकते हैं. जब इन इलाक़ों मे तनाव बढ़ता है तो भूकम्प आता है. दिल्ली भी ज़ोन 4 में है. अधिक तीव्रता का भूकंप आने की संभावना कम ही है. यमुना खादर (Yamuna Khaddar) का इलाक़ा संवेदनशील है.

लॉकडाउन में कब-कब आया दिल्ली में भूकंप



कोरोना के कहर और लॉकडाउन के दौरान दिल्ली में पहली बार भूकंप के झटके 13 अप्रैल को 3.5 की तीव्रता वाले आए थे. इसकी गहराई दिल्ली-एनसीआर में 8 किलोमीटर थी. ठीक उसी के अगले दिन यानी 14 अप्रैल को भी कम तीव्रता वाला भूकंप आया था, जिसकी तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 2.7 मापी गई थी. इससे पहले 10 मई को भी दिल्ली में मौसम बदलने के बाद भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे.



भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.5 मापी गई थी. 15 मई को चौथी बार आए भूकंप के बारे में जानकार का कहना है कि दिल्ली में एक बार फिर से भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. दिल्ली के पीतमपुरा इलाके में 2.2 की तीव्रता से भूकंप आया. दिल्ली में बीते लॉकडाउन के दौरान यह चौथी बार है जब भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं.

190 किमी की रफ्तार वाले चक्रवाती तूफान की आशंका

भारतीय मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान एमफन को लेकर अलर्ट जारी किया है. बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पूर्व में कम दबाव का एक क्षेत्र देखा जा रहा है. कहा जा रहा है कि अगले दो दिनों में ये तूफान का रूप ले सकता है. कम दबाव वाले क्षेत्र की गति अभी पता नहीं चल पाई है और संभावित तूफान तट पर कहां टकराएगा इसकी जानकारी मौसम विभाग की तरफ से साफ तौर पर नहीं दी गई है.

सुबह 8.30 मौसम विभाग ने तूफान को लेकर अपडेट जारी किया है. इसके मुताबिक कम दबाव का क्षेत्र ओडिशा में पारादीप से 1060 किलोमीटर दूर है. जबकि पश्चिम बंगाल के दीघा के तट से करीब 1310 किलोमीटर की दूरी पर है.

अगले 12 घंटे में ये तूफान का रूप ले सकता है, जबकि इसके बाद अगले 24 घंटे के में ये खतरनाक तूफान में बदल जाएगा. फिलहाल अनुमान लगाया जा रहा है कि 18-20 मई के बीच कभी ये तूफान बंगाल के तट से टकरा सकता है.

ये भी पढ़ें:-

Lockdown: दिल्ली में यहां से नहीं जाएगी कोई भी बस और ट्रेन, मजदूरों को दी न आने की सलाह

Lockdown ने महिला को मजदूर बनने पर मजबूर कर दिया, कहा- शहर न छोड़ते तो भूखे मर जाते
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading