Ghaziabad: कोरोना आपदा को अवसर में बदल रहे श्‍मशान घाट के सौदागर, अंतिम संस्‍कार का 35 हजार रुपये में फुल पैकेज

श्‍मशान घाट पर 35 हजार के अलावा 15000 में भी एक पैकेज मिल रहा है.

उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद (Ghaziabad) में कोरोना से जान गंवाने वाले के शव के अंतिम संस्‍कार के लिए 35 हजार रुपये का विशेष पैकेज देने की चर्चा है. जबकि ये खेल खुलेआम चल रहा है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. देश की राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली से सटे उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद (Ghaziabad) में श्‍मशान घाट (Cremation Ground) के सौदागर कोरोना आपदा को अवसर में बदल रहे हैं. ये लोग अब चिताओं का सौदा कर रहे हैं और एक शव का अंतिम संस्‍कार करने के लिए विशेष पैकेज के तहत मोटी कीमत वसूल रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्‍मशान घाट के सौदागरों ने गाजियाबाद में कोरोना से जान गंवाने वाले के शव को वातानुकूलित वाहन से घर से श्‍मशान तक ले जाने और उसका अंतिम संस्‍कार करने के लिए 35 हजार का पैकेज तय कर रखा है.

    बता दें कि इन दिनों गाजियाबाद के इंदिरापुरम और करहेड़ा श्‍मशान घाट पर इसी तरह का पैकेज दिया जा रहा है. जबकि पहले जान बचाने के लिए मेडिकल पैकेज और कोरोना से जंग हारने के बाद श्‍मशान घाट का पैकेज दिल को झकझोर रहा है.

    35 हजार के पैकेज में शामिल हैं ये सुविधा
    जानकारी के मुताबिक, 35 हजार रुपये के इस श्‍मशान घाट पैकेज में चार लोग शामिल होंगे, जिसमें एंबुलेंस से कोरोना मृतक का शव घर से श्‍मशान घाट तक लेने जाने के अलावा उसका अंतिम संस्‍कार करना भी शामिल है.

    यही नहीं, जो लोग 35 हजार के श्‍मशान घाट पैकेज का बोझ नहीं उठा सकते, उनके लिए बिना ऐसी की एंबुलेंस से शव श्‍मशान घाट पहुंचाया जाएगा और इसके लिए 15 हजार रुपये लगेंगे. जबकि शव के दाह संस्‍कार का इंतजाम खुद करना होगा. इस बाबत गाजियाबाद में रहने वाले प्रमेंद्र झा ने बताया है कि श्‍मशान घाट का पैकेज पिछले काफी दिनों से चल रहा है और मैंने खुद कोरोना से मृत अपनी मां के लिए 35 हजार रुपये का पैकेज लिया था. साथ ही उन्‍होंने कहा कि क्‍या करें जब कोई मदद को आगे नहीं आ रहा तो पैकेज लेना मजबूरी बन रहा है. वैसे इस मामले में अब तक किसी ने पुलिस से शिकायत नहीं की है.