Home /News /delhi-ncr /

Chhath Puja 2021: छठ पूजा पर स‍ियासत तेज, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र स‍िंह शेखावत बोले-हर रोज यमुना में डाला जा रहा 35 करोड़ लीटर गंदा पानी

Chhath Puja 2021: छठ पूजा पर स‍ियासत तेज, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र स‍िंह शेखावत बोले-हर रोज यमुना में डाला जा रहा 35 करोड़ लीटर गंदा पानी

यमुना की स्‍थि‍त‍ि पर च‍िंता जताते हुए केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने द‍िल्‍ली की केजरीवाल सरकार पर तीखा हमला बोला है. (Photo-ANI)

यमुना की स्‍थि‍त‍ि पर च‍िंता जताते हुए केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने द‍िल्‍ली की केजरीवाल सरकार पर तीखा हमला बोला है. (Photo-ANI)

Delhi Yamuna River Situation: गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि यमुना का मात्र 2% (22 किलोमीटर) हिस्सा दिल्ली क्षेत्र में आता है, लेकिन कुल प्रदूषण की 80% से अधिक हिस्सेदारी यहीं से है. दिल्ली के लगभग 18 बड़े नाले 35 करोड़ लीटर से अधिक गंदा पानी (सीवेज और औद्योगिक कचरा) यमुना में रोजाना डाल रहे हैं. यमुना की दिल्ली क्षेत्र में गंभीर स्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार को विशेष वित्तीय सहायता प्रदान की है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिल्ली में यमुना की खराब हालात और छठ पूजा (Chhath Puja) को लेकर व्रतधार‍ियों को रही द‍िक्‍कत को लेकर स‍ियासत परवान पर चढ़ी हुई है. द‍िल्‍ली के सांसदों से लेकर यूपी और हर‍ियाणा के नेता भी इसको लेकर लगातार बयान जारी कर द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. अब केंद्रीय जलशक्‍त‍ि मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) ने भी द‍िल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) पर हमला बोला है.

    यमुना की स्‍थि‍त‍ि पर च‍िंता जताते हुए केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने द‍िल्‍ली की केजरीवाल सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा है क‍ि यमुना की सफाई नहीं कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी सरकार ने भगवान भास्कर और छठी मईया को लेकर करोड़ों लोगों के हृदय में सदियों से जो आस्था संचित है, उस आस्था का अपमान किया है. केजरीवाल इस पाप की भागीदारी से नहीं बच सकते.

    ये भी पढ़ें: Delhi News: छठ को लेकर सियासत तेज, रवि किशन बोले- अपनी जिम्मेदारियां किसी और पर नहीं थोप सकते केजरीवाल

    केंद्रीय मंत्री शेखावत ने कहा कि यह कहना कि दूसरे राज्यों से गंदा पानी आकर यमुना में गिरता है, असल में अपनी जिम्मेदारी से भागने वाली बात है. मुख्यमंत्री को बताना चहिए कि यमुना में रोज गिरने वाली दिल्ली की गंदगी को रोकने के लिए उन्होंने क्या किया है? शेखावत ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री दूसरे राज्यों में जाकर झूठे दावे करते हैं और मिस्टर क्लीन बनने की कोशिश करते हैं. मुख्यमंत्री को इससे बचना चाहिए और अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए.

    शेखावत ने कहा कि यमुना का मात्र 2% (22 किलोमीटर) हिस्सा दिल्ली क्षेत्र में आता है, लेकिन कुल प्रदूषण की 80% से अधिक हिस्सेदारी यहीं से है. दिल्ली के लगभग 18 बड़े नाले 35 करोड़ लीटर से अधिक गंदा पानी (सीवेज और औद्योगिक कचरा) यमुना में रोजाना डाल रहे हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यमुना की दिल्ली क्षेत्र में गंभीर स्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार ने दिल्ली सरकार को विशेष वित्तीय सहायता प्रदान की है.

    ये भी पढ़ें: दिल्ली में छठ पूजा के लिए लोगों ने शुरू की घाटों की सफाई, कहा- पॉलिटिक्स छोड़ो, गंदगी हटाओ

    नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत लगभग 1385 एमएलडी के सीवेज शोधन की कुल 13 परियोजनाओं में केंद्र सरकार वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है. इनकी कुल लागत लगभग 2419 करोड़ रुपए है, लेकिन खेद की बात यह है कि अभी भी राज्य सरकार की प्राथमिकता इन परियोजनाओं को पूरा करने में नहीं है.

    3 बड़े एसटीपी के टेंडर फाइनल करने में दिल्ली सरकार को लगे 25-27 महीने
    दिल्ली सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए शेखावत ने कहा कि यमुना एक्शन प्लान-III के तहत 3 बड़े एसटीपी रिठाला-कोडली और ओखला के टेंडर फाइनल करने में ही दिल्ली सरकार को 25-27 महीने का समय लगा. कार्य की ये गति भी तब थी, जब दिल्ली जल बोर्ड के चेयरमैन स्वयं मुख्यमंत्री थे.

    उन्होंने कहा कि दिल्ली जल बोर्ड की कार्यप्रणाली और परियोजना प्रबंधन तो बहुत ही बुरा रहा. कुछ परियोजनाएं 7-8 साल पहले प्लान हुईं. 5 साल पहले मंजूर हुईं. उनमें भी राज्य सरकार की दूसरी एजेंसी जैसे वन विभाग की मंजूरी अभी तक नहीं हुई है. उन्‍होंने कहा क‍ि हैरान करने वाली बात यह है कि दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारी राज्य वन विभाग से मंजूरी में देरी का विषय उठाते हैं, जबकि दिल्ली जल बोर्ड के चेयरमैन और वन एवं पर्यावरण मंत्रालय, दिल्ली सरकार, एक ही भवन में बैठते हैं. ऐसे अनेक उदाहरण हैं.

    Tags: AAP Government, Arvind Kejriwal led Delhi government, Central government, Chhath Puja 2021, Chhath Puja in Delhi, Gajendra Singh Shekhawat, Yamuna River

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर