होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

दिल्ली में मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया गैंगस्टर प्रवीण यादव, पुलिस ने रखा था 1 लाख का इनाम

दिल्ली में मुठभेड़ के बाद पकड़ा गया गैंगस्टर प्रवीण यादव, पुलिस ने रखा था 1 लाख का इनाम

प्रवीण यादव समयपुर बादली का घोषित अपराधी है. रोहिणी में एक लॉ छात्र की हत्या करके वह फरार हो गया था.

प्रवीण यादव समयपुर बादली का घोषित अपराधी है. रोहिणी में एक लॉ छात्र की हत्या करके वह फरार हो गया था.

प्रवीण यादव समयपुर बादली का घोषित अपराधी है. वह पिछले 27 सालों के दौरान दिल्ली में हत्या के 2, हत्या के प्रयास के 4, और डकैती, जबरन वसूली जैसे 20 ज्यादा मामलों में शामिल रहा है. 9 अप्रैल 2021 को गैस भरवाने को लेकर 18 वर्षीय लॉ छात्र अर्जुन से उसकी बहस हो गई थी, जिसमें उसने उसे गोली मार दी थी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मुठभेड़ के बाद प्रवीण यादव नामक गैंगस्टर को गिरफ्तार किया है. प्रवीण ने वर्ष 2021 में लॉ पढ़ रहे छात्र की रोहिणी इलाके में की गोली मारकर हत्या कर दी थी. वह पहले राजेश बवानिया, नीतू दाबोदिया और अशोक प्रधान जैसे गिरोहों से जुड़ा रहा है. दिल्ली पुलिस ने उस पर एक लाख का इनाम रखा हुआ था.

स्पेशल सेल के डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक, फरार गैंगस्टर प्रवीण यादव को पकड़ने के लिए स्पेशल सेल की टीम पिछले कई दिनों से काम कर रही थी. लेकिन अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली में बार-बार अपने ठिकाने बदल रहा था. इंस्पेक्टर शिव कुमार को 14 अगस्त को एक विशेष सूचना मिली कि प्रवीण यादव महरौली की तरफ मारुति बलेनो कार में आएगा और 14 अगस्त को सुबह 8 बजे से 9 बजे के बीच चौधरी जगत सिंह रोड होते हुए घिटोरनी गांव की तरफ अपने जानकार से मिलने जाएगा.

पुलिस के मुताबिक, इस सूचना पर तुरंत कदम उठाते हुए प्रवीण को पकड़ने के लिए जाल बिछाया. रविवार सुबह करीब 8:40 बजे बलेनो कार चला रहे प्रवीण यादव को महरौली की तरफ से आते देखा गया. पुलिस टीम ने अपनी पहचान बताकर उसे रुकने का इशारा किया, लेकिन आरोपी ने भागने की कोशिश की.

पुलिस का दावा है कि टीम के सदस्यों ने उस पर काबू पाने के लिए उसका रास्ता रोक दिया और उसे सरेंडर करने के लिए कहा, लेकिन आरोपी ने अपनी पिस्टल निकाल दी और पुलिस टीम की ओर एक गोली चला दी. पुलिस ने दो राउंड की फायरिंग के बाद प्रवीण यादव को पकड़ लिया.

पुलिस ने बताया कि प्रवीण के पास से 4 कारतूस के साथ .32 की एक सेमी-ऑटोमैटिक पिस्टल बरामद की गई. आरोपी के पास से एक बलेनो कार और मौके पर मिले दो खाली कारतूस भी बरामद किए गए हैं. गिरफ्तार आरोपी समयपुर बादली का घोषित अपराधी है. वह पिछले 27 सालों के दौरान दिल्ली में हत्या के 2, हत्या के प्रयास के 4, और डकैती, जबरन वसूली जैसे 20 ज्यादा मामलों में शामिल है.

बता दें कि 9 अप्रैल 2021 को 18 वर्षीय लॉ छात्र अर्जुन अपने चचेरे भाई यश के साथ इलाके के एक सीएनजी पंप पर अपनी कार में सीएनजी भरवा रहा था. इसी दौरान गैस भरवाने को लेकर प्रवीण यादव से उसकी बहस हो गई, जिससे गुस्से में आकर प्रवीण ने अपनी कार से पिस्टल निकाली और दोनों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी और उसके बाद फरार हो गए. फायरिंग में अर्जुन और यश को गोली लगी,जिसमें अर्जुन की मौत हो गई.

Tags: Delhi news, Delhi police, Police encounter

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर