Home /News /delhi-ncr /

gangster vikas lagarpuria arrested by interpol from dubai mastermind is theft of 30 crores in gurugram nodssp

गैंगस्टर विकास लगरपुरिया दुबई से गिरफ्तार, गुरुग्राम में 30 करोड़ की चोरी में है मास्टरमाइंड

Gangster Vikas Lagarpuria arrested: 7 साल से फरार गैंगस्टर लगारपुरिया के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था.

Gangster Vikas Lagarpuria arrested: 7 साल से फरार गैंगस्टर लगारपुरिया के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था.

Gangster Vikas Lagarpuria arrested: पिछले 7 साल से फरार लगरपुरिया के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने ‘रेड कॉर्नर’ नोटिस जारी किया था. हरियाणा एसटीएफ गुरुग्राम में 30 करोड़ रुपये की लूटपाट के मामले में उसकी तलाश कर रही थी. इस मामले में दो डॉक्टर, दिल्ली का एक पुलिसकर्मी और हरियाणा का भारतीय पुलिस सेवा (IPS) का एक अधिकारी आरोपी हैं.

अधिक पढ़ें ...

गुरुग्राम. इंटरपोल ने गुरुग्राम में 30 करोड़ रुपये की लूटपाट के कथित मास्टरमाइंड गैंगस्टर विकास लगरपुरिया (Gangster Vikas Lagarpuria Arrested) को दुबई से गिरफ्तार किया है. यहां एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. अधिकारी ने कहा कि लगारपुरिया को वापस लाने के प्रयास जारी हैं. गैंगस्टर को भारत लाने की तैयारी की जा रही है.

एसीपी (अपराध) प्रीत पाल सिंह सांगवान ने कहा, ‘‘हमारी अपराध इकाई और एसटीएफ ने करोड़ों रुपये की लूटपाट के मामले में गैंगस्टर लगारपुरिया को पूछताछ के लिए प्रोडक्शन वारंट पर लेने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है.’’

7 साल से फरार लगारपुरिया के खिलाफ जारी है रेड कॉर्नर नोटिस 

पिछले 7 साल से फरार विकास लगरपुरिया के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने ‘रेड कॉर्नर’ नोटिस जारी किया था. हरियाणा एसटीएफ गुरुग्राम में 30 करोड़ रुपये की लूटपाट के मामले में उसकी तलाश कर रही थी. इस मामले में दो डॉक्टर, दिल्ली का एक पुलिसकर्मी और हरियाणा का भारतीय पुलिस सेवा (IPS) का एक अधिकारी आरोपी हैं.

गुरुग्राम में लूटपाट की घटना पिछले साल 4 अगस्त की है

घटना पिछले साल चार अगस्त की है. आरोपी यहां सेक्टर 84 में एक फ्लैट में घुसकर 30 करोड़ रुपये नकद लेकर फरार हो गया था. फ्लैट से एक निजी कंपनी का ऑफिस संचालित हो रहा था. लगरपुरिया गिरोह के सदस्य अमित उर्फ ​​मिट्टा, दिल्ली के नजफगढ़ निवासी, उत्तर प्रदेश के अभिनव और धरे को गिरफ्तार कर लिया गया, जिसके बाद उन्होंने गैंगस्टर के निर्देश पर नकदी लूटने की बात स्वीकार की.

उनकी गिरफ्तारी के बाद एसटीएफ ने डॉ सचिंदर जैन नवल और डॉ जीपी सिंह को गिरफ्तार कर लिया. जांच के दौरान एसटीएफ ने आईपीएस अधिकारी धीरज सेतिया की संलिप्तता का खुलासा किया, जिसे निलंबित कर दिया गया था. बाद में सेतिया और दोनों डॉक्टरों को मामले में जमानत मिल गई.

Tags: Delhi Gangster, Delhi police, Gurugram crime news, Gurugram news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर