लाइव टीवी

गार्गी कॉलेज की छात्रा ने सुनाई आपबीती- गेट तोड़कर कैंपस में घुस आए 100 से ज्‍यादा पुरुष, पुलिस ने नहीं की हमारी मदद
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 12:10 PM IST
गार्गी कॉलेज की छात्रा ने सुनाई आपबीती- गेट तोड़कर कैंपस में घुस आए 100 से ज्‍यादा पुरुष, पुलिस ने नहीं की हमारी मदद
गार्गी कॉलेज की घटना के बाद कॉलेज प्रशासन बैकफूट पर आता दिख रहा है.

DCP साउथ, अनिल ठाकुर का कहना है कि उन्हें इस मामले पर कोई शिकायत (Complaint) नहीं मिली है. ना ही कॉलेज और ना ही छात्राओं ने किसी तरह की शिकायत दर्ज करवाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 12:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली के गार्गी कॉलेज (Gargi College) में छात्राओं के साथ हुई छेड़खानी (Molestation) की घटना का आंखों देखा हाल एक छात्रा ने बताया. उसने बताया कि चार फरवरी को कॉलेज में फेस्ट (College Fest) था और 6 फरवरी को स्टार नाइट थी. गुरुवार को स्टार नाइट (Star Night) के दिन 100 से ज्यादा पुरुषों ने कॉलेज का गेट तोड़ दिया और अंदर घुस आए. बाद में लड़कियों के साथ मिसबिहेव करना शुरू कर दिया.

एक छात्रा ने घटना का जिक्र करते हुए कहा, 'मैं वहां थी, लेकिन मेरे साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ. मेरी फ्रेंड्स ने बताया कि उनकी कमर में भी हाथ लगाया गया. इतना सब होने पर भी कॉलेज स्टाफ और पुलिस सपोर्ट नहीं कर रही थी. उन्होंने हमसे ये कहा कि आपको इतना ही अनसेफ फील होता है तो कॉलेज ही क्यों आते हो, फेस्ट में क्यों आते हो.' बता दें, दिल्ली कमीशन फॉर वूमन (DCW) चीफ स्वाति मालीवाल दोपहर 12 बजे गार्गी कॉलेज का दौरा करने पहुंच रही हैं.

प्रिंसिपल ने नहीं उठाया फोन
मामले को लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने कहा, 'मैंने रात को ट्विटर पर इसके बारे में पढ़ा था, लड़कियों ने ट्वीट किया था कि कॉलेज में लड़के घुस आए और उनसे छेड़छाड़ की. एडमिन ने इस पर कोई एक्शन नहीं लिया.' रेखा शर्मा ने कहा कि मैंने वहां एक टीम भेजी है. प्रिंसीपल से बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया. हम पुलिस से भी बात करेंगे. पूरे विषय की जानकारी लेने के बाद ही बताएंगे कि क्या हुआ है.

नहीं मिली शिकायत
वहीं, डीसीपी साउथ, अनिल ठाकुर का कहना है कि उन्हें इस मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है. ना ही कॉलेज और ना ही छात्राओं ने किसी तरह की  शिकायत दर्ज करवाई है. उन्होंने कहा कि हम जांच कर रहे हैं. साथ ही सीसीटीवी को भी खंगाला जा रहा है.

लड़कियों की सुरक्षा की गारंटी नहीं
आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता दिलीप के पांडेय ने इस पूरे मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया, 'देश की राजधानी में, गार्गी कॉलेज की घटना कानून व्यवस्था के नाम पर कलंक है. लड़कियों! तुम्हें यह समाज सुरक्षा की गारंटी तक नहीं दे पा रहा है, सम्मान की अपेक्षा बेमानी है.'

सीएम केजरीवाल और अमित शाह आएं आगे
कांग्रेस नेता शिवानी चोपड़ा ने भी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा, 'मैंने पढ़ा कल क्या हुआ है. मैं यहां पर स्टूडेंट्स के साथ सॉलिडेरिटी के लिए खड़ी हूं. मुझे अंदर नहीं जाने दे रहे हैं. ये बहुत ही शर्मनाक घटना हुई है. दिल्ली के सीएम को बाहर आना चाहिए, स्टूडेंट्स के साथ खड़ा होना चाहिए. अमित शाह जी को भी आना चाहिए..'

क्या है मामला?
दिल्ली विश्वविद्यालय के गार्गी कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं ने वार्षिक फेस्ट कार्यक्रम के दौरान बाहरी लड़कों पर कॉलेज में तोड़-फोड़ और छेड़खानी का आरोप लगाया है. घटना गुरुवार शाम की बताई जा रही है. यह कथित घटना कॉलेज में वार्षिक उत्सव 'रेवेरी' के तीसरे दिन हुई थी. कार्यवाहक प्रिंसिपल प्रोमिला कुमार ने बताया है कि इस मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है. उन्होंने यह भी बताया कि इस कार्यक्रम में डीयू के अन्य कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र भी आ सकते थे.

6 फरवरी की है घटना
इस मामले पर इंडियन एक्सप्रेस में एक खबर छपी थी. इस खबर के अनुसार, कॉलेज छात्र संघ की अध्यक्ष सुंदरम ठाकुर ने बताया कि यह कथित घटना 6 फरवरी को शाम 4 से 5 बजे के बीच हुई. उन्होंने कहा कि पुरुषों के लिए इस कार्यक्रम में प्रवेश प्रतिबंधित था.

ये भी पढ़ें: संसद पहुंचा गार्गी कॉलेज का मामला, छात्राओं का 'हल्ला बोल' प्रोटेस्ट आज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 11:41 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर