नोएडा सेक्टर-62 से वाहन चोर गिरोह के छह शातिर सदस्य गिरफ्तार, चोरी की 13 कारें बरामद
Delhi-Ncr News in Hindi

नोएडा सेक्टर-62 से वाहन चोर गिरोह के छह शातिर सदस्य गिरफ्तार, चोरी की 13 कारें बरामद
पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वो फुल प्रूफ प्लानिंग के साथ वाहनों की चोरी करते थे

पुलिस के मुताबिक वाहन चोरी गैंग का मास्टरमाइंड (Mastermind) मनोज नेहरा और अफजल राजपूत है. यह दोनों पूरी वारदात को कैसे अंजाम देना है और कहां करना है, इसकी प्लानिंग करते थे. उसके बाद बेहद शातिराना अंदाज से चोरी करते थे

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 13, 2020, 6:14 PM IST
  • Share this:
गौतमबुद्ध नगर. उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर (Gautam Buddh Nagar) जनपद के थाना 58 पुलिस ने वाहन चोर गिरोह (Vehicle Theft Gang) का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने रविवार को सुमन बजाज एजेंसी के सामने पीर कट, नोएडा सेक्टर- 62 (Noida Sector 62) से वाहन चोरी गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से अलग-अलग मॉडलों की 13 कारें बरामद की हैं. पुलिस के मुताबिक वाहन चोरी गैंग का मास्टरमाइंड (Mastermind) मनोज नेहरा और अफजल राजपूत है. यह दोनों पूरी वारदात को कैसे अंजाम देना है और कहां करना है, इसकी प्लानिंग करते थे. उसके बाद बेहद शातिराना अंदाज से चोरी करते थे. पुलिस ने बताया कि इस वाहन चोर गैंग के दो आरोपी फरार हैं जो चोरी की हुई गाड़ियों को खरीदते हैं. पूछताछ में इन्होंने बताया कि अब तक एनसीआर इलाके से 100 से अधिक वाहनों पर यह हाथ साफ कर चुके हैं.

आरोपियों ने यह भी बताया कि गैंग के सदस्यों द्वारा नोएडा समेत दिल्ली-एनसीआर से काफी गाड़ियां चुराने के बाद वो उसे अपने साथी आदिल और अय्यूब को बेच देते थे. साथ ही उन्होंने यह भी कबूल किया कि वो टेक्नोलॉजी का गलत इस्तेमाल करते हुए गाड़ियां चुराते थे. आरोपी आदिल कश्मीर का रहने वाला है. जबकि अय्यूब मेरठ का रहने वाला है. आरोपियों ने बताया कि कुछ गाड़ियों को हमने चैसिस नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर बदल कर दोनों को बेचा था. इन गाड़ियों के चैसिस नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर हम इन दोनो के बताए अनुसार ही बदलते थे. यह गाड़ी भी हमने आदिल और अय्यूब को बेचने के लिए खड़ी कर रखी थी. इनमें से चार गाड़ियों के चैसिस नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर अभी तक बदल दिए गए हैं. जबकि बाकी के चैसिस नंबर और रजिस्ट्रेशन नंबर चेंज नहीं कर पाए हैं.


इस बारे में डीसीपी राजेश एस ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस की टीम पिछले एक महीने से काम कर रही थी. इस वाहन चोर गैंग के दो मुख्य सरगना मनोज और अफजाल है. वहीं चोरी के वाहनों को खरीदने वाले दो आरोपी आदिल और अय्यूब फरार हैं जिन्हें पुलिस तलाश कर रही है. उन्होंने बताया कि इन सभी पर करीब एक-एक दर्जन मुकदमे दर्ज हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज